आईएमए ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मांडविया को लिखा पत्र, नीट-पीजी परीक्षा टालने की मांग

punjabkesari.in Thursday, May 12, 2022 - 06:32 PM (IST)

नेशनल डेस्क: इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया से 21 मई को प्रस्तावित नीट-पीजी परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध किया है। अपने पत्र में आईएमए ने कहा कि राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा-स्नातकोत्तर 2021 निर्धारित तारीख के पांच महीने बाद सितंबर 2021 में हुई थी।

इसके बाद काउंसलिंग का कार्यक्रम 25 अक्टूबर 2021 को शुरू होना था लेकिन सीटों के आरक्षण का मुद्दा लंबित होने के कारण यह विलंब से (जनवरी 2022 में) शुरू हुआ और उच्चतम न्यायालय के 31 मार्च 2022 के फैसले के कारण इसमें और देरी हुई।

आईएमए ने कहा कि विलंबित काउंसलिंग कार्यक्रम के परिणामस्वरूप, नीट-पीजी 2022 को अप्रैल 2022 से मई 2022 तक के लिए टाल दिया गया था, ताकि उम्मीदवार नीट-पीजी 2021 की बची हुई सीटों के लिए उपस्थित हो सकें और अगर वे अपने लिए सीट सुरक्षित करने में सफल नहीं होते हैं तो भी उनके पास तैयारी करने और अगली नीट-पीजी 2022 की परीक्षा में पुन: उपस्थिति होने के लिए पर्याप्त समय हो।

आईएमए ने अपने पत्र में कहा, “नीट-पीजी 2022 परीक्षा की तारीख क्योंकि 21 मई 2022 है, हम आपके समय पर हस्तक्षेप और इसको उचित समय के लिए स्थगित करने पर तत्काल विचार करने का अनुरोध करते हैं, ताकि वर्तमान नीट-पीजी 2021 उम्मीदवारों के पास तैयारी के लिए पर्याप्त समय हो…।”


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

rajesh kumar

Related News

Recommended News