दिल्ली कैसे जीतेगी कोरोना से जंग, ऑक्सीजन के बाद अब  वैक्सीन की किल्ल्त

5/11/2021 8:54:41 AM

नेशनल डेेस्क: कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ साथ देश की राजधानी दिल्ली को और भी कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ऑक्सीजन के बाद अब यहां के लोग वैक्सीन संकट काे झेल रहे हैं । स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि दिल्ली में ‘कोवैक्सीन’ का स्टॉक केवल एक दिन का बचा है जबकि कोविशील्ड का स्टॉक तीन से चार दिन चलेगा।

PunjabKesari

केजरीवाल ने भी की थी वैक्सीन की मांग
इससे एक दिन पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से आग्रह किया था कि वह टीका निर्माताओं को मई से जुलाई के बीच राष्ट्रीय राजधानी को टीके की आपूर्ति बढ़ाने का निर्देश दें। रविवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली को 18-44 वर्ष के श्रेणी में कोरोना वायरस रोधी टीके की 5.5 लाख खुराकें मिली हैं जबकि 45 वर्ष से अधिक और स्वास्थ्य देखभाल तथा अग्रिम पंक्ति के कर्मियों के लिए 43 लाख से अधिक खुराकें मिली हैं।

PunjabKesari

तक करीब 39 लाख खुराकों का हुआ इस्तेमाल
राष्ट्रीय राजधानी में अब तक करीब 39 लाख खुराकें लगाई जा चुकी हैं। रविवार की शाम तक, दिल्ली में दिल्ली में 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए और स्वास्थ्य देखभाल तथा अग्रिम पंक्ति के कर्मियों के लिए कोरोना वायरस टीके की 4.65 लाख खुराकें उपलब्ध थीं जबकि 2.74 लाख खुराकें 18-44 वर्ष की श्रेणी के लिए थीं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि पिछले पखवाड़े में संक्रमण दर और नए मामलों में कमी आना ‘आशा की किरण’ है।

PunjabKesari
कोवैक्सीन टीके का भंडार लगभग खत्म
वहीं आम आदमी पार्टी (आप) की नेता आतिशी ने कहा कि अगर टीके की आपूर्ति नहीं की गई तो दिल्ली सरकार को मंगलवार शाम के बाद उन टीकाकरण केंद्रों को बंद करना पड़ेगा, जहां 18-44 आयुवर्ग के लोगों को कोवैक्सीन की खुराक दी जा रही है। उन्होंने कहा कि इस आयुवर्ग के टीकाकरण के लिए दिल्ली के पास उपलब्ध कोवैक्सीन टीके का भंडार मंगलवार शाम तक समाप्त हो जाएगा जबकि कोविशील्ड टीके का भंडार चार दिन तक चल सकता है।


Content Writer

vasudha

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static