अंग्रेजों के चमचों के कार्यकर्ताओं से गांधी को नहीं चाहिए सर्टिफिकेट: कांग्रेस

2020-02-03T20:27:05.427

नई दिल्लीः कांग्रेस ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में भाजपा नेता अनंत हेगड़े के कथित बयान को लेकर सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद में इस पर स्पष्टीकरण देना चाहिए। पार्टी प्रवक्ता जयवीर गिल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘महात्मा गांधी को अंग्रेजों के चमचों और जासूसों के कैडर से प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है।'' शेरगिल ने कहा कि हेगड़े के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए। उन्होंने यह भी दावा किया कि इस समय भाजपा को ‘नाथूराम गोडसे पार्टी' कहा जाना चाहिए।

क्या अनंत हेगड़े पर कार्रवाई होगी
हेगड़े की टिप्पणी को लेकर भाजपा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि ‘कट्टाग्रह' पर विश्वास रखने वाले सत्याग्रह को स्वीकार नहीं कर सकते। सुरजेवाला ने दावा किया, ‘‘ये मोदी जी का ‘भारत' है जहां बापू के विचार और उनके रास्ते पर रोज हमला होता है।'' उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी, क्या अनंत हेगड़े पर कार्रवाई होगी? अगर कार्रवाई नहीं होती है तो साबित हो जाएगा कि आवाज हेगड़े की है और विचार मोदी जी के हैं।''

देश की आत्मा पर चोट
पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा ने आरोप लगाया कि दिल्ली चुनाव में ध्रुवीकरण के माध्यम से वोट हासिल करने के लिए भाजपा के कई नेता और मंत्री भड़काऊ बयान दे रहे हैं जो देश की आत्मा पर चोट है। उन्होंने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘ महात्मा गांधी का और आजादी के आंदोलन का इससे (हेगड़े की टिप्पणी) बढ़कर कोई अपमान नहीं हो सकता। इस पर कार्रवाई होनी चाहिए। अगर प्रधानमंत्री और सरकार कार्रवाई नहीं करते हैं तो यह साबित हो जाएगा कि इनकी नीयत में खोट है।''

शर्मा ने कहा, ‘‘हमारी मांग है कि प्रधानमंत्री संसद में आएं और इस मामले पर स्पष्टीकरण दें।'' कांग्रेस नेता ने यह आरोप भी लगाया कि भाजपा नेताओं के वैचारिक पूर्वजों ने स्वतंत्रता की लड़ाई का विरोध किया था और ऐसे में उनके ये बयान चौंकाने वाले नहीं है।

खबरों के मुताबिक हेगड़े ने बेंगलुरू के एक कार्यक्रम में कथित तौर पर दावा किया कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक ‘नाटक' था।

 


Yaspal

Related News