इस कारण भारत में जनवरी, फरवरी में पड़ेगी अब तक की सबसे अधिक सर्दी, जानें इससे कैसे निपटें

punjabkesari.in Saturday, Dec 04, 2021 - 11:52 AM (IST)

नेशनल डेस्क: भारत भारी वर्षा से लेकर बाढ़ आने तक एक्सट्रीम वैदर कंडीशन्स से जूझ रहा है। इस साल सितंबर और अक्टूबर में पिछले पांच वर्षों के मुकाबले मौसम से जुड़ी चरम घटनाएं सामने आई हैं और अब एक नया पूर्वानुमान लगाया गया है जिसके मुताबिक भारत में आगे अधिक ठंड पड़ने वाली है।

माना जा रहा है कि एक ऐसी घटना होने वाली है जोकि कठोर सर्दियां प्रदान करती है। प्रशांत महासागर में उभरने वाले ला नीना (La Nina) के कारण उत्तर भारत में अत्यंत ठंडी सर्दी देखी जा सकती है।

क्या है ला नीना?
ला नीना मौसम का एक पैटर्न है जो उत्तरी गोलार्ध में सर्दियों के कारण बनता है। इससे भारत के कुछ हिस्सों में अत्यधिक ठंडी सर्दियां होने की संभावना है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, जनवरी और फरवरी में कुछ उत्तरी राज्यों में विशेष रूप से ठंड पड़ेगी, इन जगहों पर तापमान ठीक होने से पहले 3 डिग्री सेल्सियस तक गिर जाएगा। माना जा रहा है कि ला नीना के कारण वैश्विक मौसम का मिजाज बिगाड़ जाएगा।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Hitesh

Related News

Recommended News