सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों और 65 साल ज्यादा उम्र के लोगों मिलेगी कोरोना वैक्सीन: स्वास्थ्य मंत्री

2020-11-19T16:07:49.37

नेशनल डेस्क: स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने गुरुवार को कहा कि कोरोना वायरस (covid-19 ) टीका वितरण में प्राथमिकता दिया जाना स्वाभाविक है और जब कोई टीका उपलब्ध होगा तो सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों व 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को वरीयता दी जाएगी। हर्षवर्धन ‘फिक्की एफएलओ' द्वारा आयोजित एक वेबिनार को संबोधित कर रहे थे। कोविड के दौरान और उसके बाद बदले स्वास्थ्य प्रतिमान'' विषयक वेबिनार में हर्षवर्धन ने कहा कि covid-19 टीका अगले कुछ महीनों में उपलब्ध होगा और उम्मीद है कि अगले साल जुलाई-अगस्त तक 25-30 करोड़ लोगों के लिए 40-50 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी। उन्होंने कहा कि यह स्वाभाविक है कि टीका वितरण में प्राथमिकता दी जाएगी। जैसा कि आप जानते हैं कि स्वास्थ्य कर्मी, जो कोरोना योद्धा हैं, उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी, फिर 65 साल से अधिक आयु के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी। फिर 50-65 साल की आयु वाले लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी।''

 

हर्षवर्धन ने कहा कि उसके बाद 50 साल से कम उम्र के लोग जिन्हें अन्य बीमारियां हैं। यह विशेषज्ञों द्वारा वैज्ञानिक दृष्टिकोण से निर्धारित किया जा रहा है। हमने इस बारे में विस्तृत, सावधानीपूर्वक योजना बनाई है। अगले साल मार्च-अप्रैल में हमें क्या करना है, हमने अभी से ही इसकी योजना बनानी शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति इस घातक वायरस से छोटी-छोटी सावधानियां जैसे अच्छी गुणवत्ता का मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना और हाथों की सफाई से बचाव कर सकता है। भारत में गुरुवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के 45,576 नए मामले सामने आने से कुल संख्या बढ़कर 89,58,483 हो गई।


Seema Sharma

Recommended News