10 फरवरी से सात मार्च तक एग्जिट पोल लगी रोक, चुनाव आयोग का बड़ा फैसला

punjabkesari.in Saturday, Jan 29, 2022 - 08:36 PM (IST)

नेशनल डेस्कः उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव को लेकर निवार्चन आयोग ने चुनावी सर्वे पर रोक लगा दी है। यह रोक प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया दोनों पर लागू होगी। 10 फरवरी सुबह वोटिंग टाइम सात बजे से लेकर सात मार्च को 6.30 बजे तक रोक रहेगी।

निर्वाचन आयोग एग्जिट पोल को लेकर बेहद सख्त है। इस निर्देश का उल्लंघन करने पर कम से कम दो वर्ष का कारावास और जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है। चुनाव आयोग के निर्देश पर उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश जारी कर दिया है।

निर्वाचन आयोग एगिजट पोल को लेकर बेहद सख्त हो गया है। आयोग ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि सरकार बनाने के साथ समीकरण बिगाडऩे वाले सभी आंकड़े अब अपराध में आएंगे। इसी कारण दस फरवरी के साथ मार्च तक एग्जिट पोल दिखाने पर रोक लगा दी गई है। इसके उल्लंघन पर दो वर्ष की जेल के साथ जुर्माना की सजा है।

निर्वाचन आयोग ने एक अधिसूचना जारी की। विधानसभा चुनाव के दौरान मीडिया के किसी तरह के एग्जिट पोल करने या उसे प्रकाशित करने पर रोक लगाई गई है। आयोग ने कहा कि रोक पहले चरण के मतदान के दिन सुबह सात बजे से अंतिम चरण के मतदान के दिन शाम 6.30 बजे लागू रहेगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Related News

Recommended News