भारत के जीवंत लोकतंत्र पर आपातकाल एक ''काला धब्बा'': मोदी

punjabkesari.in Monday, Jun 27, 2022 - 12:01 PM (IST)

म्यूनिख: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को कहा कि 47 साल पहले लगाया गया आपातकाल भारत के जीवंत लोकतंत्र पर एक ‘‘काला धब्बा'' है। प्रवासी भारतीयों को यहां ‘ऑडी डोम' इंडोर एरिना में एक कार्यक्रम के दौरान संबोधित करते हुए उन्होंने देश के लोकतांत्रिक मूल्यों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र हर भारतीय के डीएनए में है। जी7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने जर्मनी आये मोदी ने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘47 साल पहले, लोकतंत्र को बंधक बनाने और उसे कुचलने का प्रयास किया गया था।

 

आपातकाल भारत के जीवंत लोकतंत्र पर एक काला धब्बा है।'' मोदी ने कहा, ‘‘हम भारतीय जहां भी रहते हैं अपने लोकतंत्र पर गर्व महसूस करते हैं। हर भारतीय गर्व से कह सकता है कि भारत लोकतंत्र की जननी है।'' गौरतलब है कि 25 जून, 1975 को देश में आपातकाल लगाये जाने की घोषणा की गई थी और उस समय इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थीं। आपातकाल को 21 मार्च, 1977 को हटा लिया गया था।  


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News