दिल्ली विस चुनाव 2020: 5 साल में बढ़ी आप के दो मंत्रियों की चल-अचल संपत्ति

2020-01-19T17:03:37.987

नई दिल्लीः दिल्ली में आप सरकार के 2 मंत्रियों गोपाल राय, राजेंद्र पाल गौतम की चल और अचल संपत्तियों में पिछले 5 सालों में बढ़ोतरी हुई है। इनमें राजेंद्र पाल गौतम की संपत्ति गोपाल राय की तुलना में अधिक बढ़ी है। गोपाल राय ने आमदनी का एकमात्र स्नोत विधायक का वेतन बताया है। हलफनामे के मुताबिक 2015 में गोपाल राय के पास चल संपत्ति 2.17 लाख रुपये मूल्य की थी। वहीं पत्नी के पास करीब सवा पांच लाख रुपये थे। अचल संपत्ति के रूप में गोपाल राय के पास करीब 45 लाख की मऊ, उप्र में जमीन थी। पांच साल बाद उनके पास चल संपत्ति करीब 23.86 लाख रुपये की हो गई। इस अवधि में उनकी पत्नी की संपत्ति भी बढ़कर 8.15 लाख रुपये हो गई। अचल संपत्ति की बात करें तो उसका कुल मूल्य गोपाल राय ने 58 लाख रुपये बताया है। इसमें मऊ की जमीन के अलावा एक जगह पर कृषि भूमि और एक मकान में एक तिहाई हिस्से का जिक्र है।

 

 

वहीं राजेंद्र पाल गौतम के 2015 के हलफनामे के मुताबिक उनके पास चल संपत्ति करीब 11 लाख रुपये और उनकी पत्नी के पास करीब 12.5 लाख रुपये की थी। जो पांच साल में बढ़कर क्रमश 23.5 लाख और 15.5 लाख रुपये की हो गई। चल संपत्ति में नकदी के साथ गहने भी शामिल हैं। वहीं अचल संपत्ति पांच साल पहले राजेंद्र पाल गौतम के पास 15 लाख और उनकी पत्नी के पास करीब 25 लाख रुपये की थी। इसमें पांच सालों में काफी बढ़ोतरी हुई। राजेंद्र गौतम के पास अब 66 लाख रुपये और उनकी पत्नी के पास 76 लाख रुपये की अचल संपत्ति है। बता दें कि आप के कई प्रत्याशियों ने विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन कर दिया है। इनमें दिल्ली सरकार के श्रम मंत्री और आप के प्रदेश संयोजक गोपाल राय के साथ समाज कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम भी शामिल हैं। राजेंद्र पाल गौतम ने विधानसभा क्षेत्र में रोड शो कर शक्ति प्रदर्शन किया। इसके बाद नामांकन करने पहुंचे। वहीं गोपाल राय अपने समर्थकों के साथ निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय पहुंचकर अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। बता दें कि गोपाल राय बाबरपुर से तो राजेंद्र पाल गौतम सीमापुरी से आप के प्रत्याशी हैं।


Edited By

Ashish panwar

Related News