हरियाणा-पंजाब में जलने लगी पराली, सोमवार तक ''गंभीर'' हो सकती है दिल्ली की हवा

2020-09-27T09:02:41.857

नेशनल डेस्कः मौसम में बदलाव आते ही दिल्ली के लिए एक बार फिर से परेशानियां खड़ी होने जा रही हैं। दरअसल जल्द ही दिल्ली वालों को अब जल्द ही एक बार फिर से राजधानी के लोगों को प्रदूषण का सामना करना पड़ सकता है। मौसम का हाल और पूर्वानुमान बताने वाली वेबसाइट सफर इंडिया के पूर्वानुमान के मुताबिक आने वाले सोमवार से राजधानी में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स बढ़कर 200 के पार जा सकता है। CPCB के एयर बुलेटिन के मुताबिक राजधानी में शनिवार को एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 165 रहा। जबकि रविवार की सुबह यह 157 रहा। सफर के पूर्वानुमान के मुताबिक एनसीआर में तीन जगहों पर प्रदूषण खराब स्थिति में पहुंच भी चुका है और राजधानी में साउथ वेस्ट की तरफ से धूल पहुंचने लगी है।

 

वहीं पंजाब और हरियाणा में पराली जलाने की घटनाएं भी शुरू हो चुकी हैं। धीरे-धीरे पराली का धुआं राष्ट्रीय राजधानी में पहुंचने लगेगा। सफर के पूर्वानुमान के मुताबिक शुक्रवार को 40 जगहों पर पराली जलाई गई। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को एक पत्र लिखा और पराली जलाए जाने से निपटने के लिए यहां भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (IARI) के वैज्ञानिकों द्वारा विकसित कम लागत वाली प्रौद्योगिकी का उपयोग बढ़ाने का सुझाव दिया।

 

केजरीवाल ने कहा कि IARI के वैज्ञानिकों ने एक ऐसा रसायन विकसित किया है जो पराली को (खेतों में ही) सड़ा-गला देता है और इसे खाद में तब्दील कर देता है। किसानों को पराली जलाने की कोई जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने इस मुद्दे पर चर्चा के लिए अपने पत्र के जरिए केंद्रीय मंत्री से समय भी मांगा, जिन्होंने बताया कि शाम में उनकी टेलीफोन पर बात हुई है। बता दें कि कोरोना संकट के चलते लगाए गए लॉकडाउन की वजह से दिल्ली समेत देशभर के कई राज्य में हवा में काफी सुधार हुआ था।


Seema Sharma

Related News