सुसाइड तक करने को मजबूर हो गई थीं दीपिका पादुकोण! मां ने दी नई जिंदगी...एक्ट्रेस ने NGO के प्रोग्राम में किया खुलासा

punjabkesari.in Saturday, Aug 06, 2022 - 04:07 PM (IST)

नेशनल डेस्क: हमारे देश में जिस तरह से आबादी बढ़ रही है उसी तरह से इस देश में लोग मानसिक बीमारी के भी शिकार हो रहे है। WHO की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब एक अरब लोग मानसिक रोग के शिकार है। वहीं  पुरुषों के मुकाबले ज्यादा महिलाएं इस रोग से पीड़ित है तो उधर, बच्चे डेवलपमेंटल डिजॉअर्डर्स से पीड़ित है। आंकड़ों के मुताबिक,  भारत में 5 करोड़ से ज्यादा मेंटल हेल्थ से पीड़ित है। ऐसे में हाल ही में बाॅलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने भी अपने  मेंटल हेल्थ को लेकर कई बड़े खुलासे किए है।

दरअसल, अपने करियर के शुरूआती दौर में दीपिका पादुकोण भी मेंटल हेल्थ को लेकर काफी परेशान रही है।  हाल ही में उन्होंने अपने मानसिक बीमारी के बारे में बताया। दीपिका ने बताया कैसे उन्हें उस दौर में सुसाइड के ख्याल आते थे। हालांकि वह अब डिप्रेशन की जंग से बाहर निकल आईं है  और जिंदगी को फिर से जीना सीख लिया है। 

दीपिका ने बताया कि इन सबसे जब वह गुजर रही थीं, तब उनकी मां ने उनका दर्द समझा और उन्हें इन सबसे निकलने में मदद की।  मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि मैं बिना किसी कारण के टूट जाती थी। वो मेरी जिंदगी के ऐसे दिन थे जब मैं जागना नहीं चाहती थी, सिर्फ सोती रहती थी क्योंकि नींद ही एक चीज थी, जो मुझे शांत रखती थी। दीपिका ने बताया कि मुझे कई बार आत्महत्या करने के ख्याल भी आए और जब मम्मी-पापा मेरे से मिलने आते थे तो मैं उनके सामने नॉर्मल बिहेवियर करने की कोशिश करती थीं। 

 उन्होंने कहा कि मेरे मम्मी-पापा बेंगलुरु में रहते हैं और हर बार, पहले भी आज भी.. मैं ऐसे दिखाती हूं कि सब कुछ ठीक है।  लेकिन एक दिन मैं इतना टूट गई कि रोने लगी और तब मां ने मुझे बहुत ही आम से सवाल पूछे- क्या बॉयफ्रेंड की वजह से? क्या काम की वजह से? कुछ हुआ है क्या?' लेकिन ऐसा खुच भी नही था और कुछ देर बाद वह समझ गए कि मैं डिप्रेशन में हूं। आज मैं इस स्थिति से केवल अपनी मां और परिवार की वजह से निकल पाई हूं। 

बता दें कि डिप्रेशन, तनाव आदि से जूझ रहे रहे लोगों के लिए दीपिका एक एनजीओ चलाती हैं। इस एनजीओ का नाम 'लिव लव लाफ' है। उन्होंने कहा, 'डिप्रेशन सबसे बड़ी वजह है कि मैंने इस फाउंडेशन को बनाया, और इसके माध्यम से लोगों को जागरूक कर रही हूं।  

 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Related News

Recommended News