दीपक कोचर कोरोना पॉजिटिव पाए गए, मनी लॉन्ड्रिंग केस में थे गिरफ्तार

2020-09-14T18:10:46.113

नई दिल्ली: आईसीआईसीआई की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) चंदा कोचर के पति दीपक कोचर को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया है। दीपक कोचर को हाल ही में मनी लान्ड्रिंग मामले में ईडी ने गिरफ्तार किया था। उन्हें 19 सितंबर तक ईडी की कस्टडी में भेजा गया था। दीपक कोचर पर आरोप है कि उन्होंने वीडियकॉन इलेक्ट्रानिक्स लिमिटेड(वीआईईएल) से अपनी कंपनी के लिए 64 करोड़ रुपए प्राप्त किए थे। इस मामले में आईसीआईसीआई की पूर्व एमडी और दीपक की पत्नी चंदा कोचर की नौकरी भी जा चुकी है।

PunjabKesari
19 सितंबर तक मिली थी न्यायिक कस्टडी
दीपक कोचर को पिछले मंगलवार को एक विशेष पीएमएलए कोर्ट में पेश किया गया है, जिसके बाद उन्हें 11 दिनों की ईडी कस्टडी में भेज दिया गया था। इस मामले में ईडी के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार,  सात सितंबर, 2009 को आईसीआईसीआई बैंक ने वीआईईएल को 300 करोड़ रुपये का ऋण दिया था, जिसमें चंदा स्वीकृति समिति की अध्यक्ष थीं।

जानें पूरा मामला
अधिकारी ने कहा कर्ज को मंजूरी मिलने के सिर्फ एक दिन बाद आठ सितंबर 2009 को वीआईईएल ने 64 करोड़ रुपये नू पावर रिन्यूएबल्स प्राइवेट लिमिटिड (एनआरपीएल) को स्थानांतरित कर दिए, जो कि दीपक की कंपनी है। इसके अलावा,एनआरएल द्वारा इस भ्रष्ट फंड में से 10.65 करोड़ रुपये का शुद्ध राजस्व अर्जित किया गया। इस तरह से 74.65 करोड़ की राशि को एनआरपीएल में स्थानांतरित किया गया। एनआरपीएल को पहले नू पॉवर रिन्यूएबल्स लिमिटिड (एनआरएल) के तौर पर जाना जाता था और यह दीपक कोचर की कंपनी है।


Author

rajesh kumar

Related News