आज अत्यंत भीषण चक्रवाती’ तूफान में तब्दील होगा ‘तौकते’, कई राज्यों पर मंडरा रहा खतरा

punjabkesari.in Saturday, May 15, 2021 - 09:37 AM (IST)

नेशनल डेस्क:  कोरोना संकट के बीच एक और मुसीबत देश का इंतजार कर रही है।  गुजरात, केरल समेत देश के पांच राज्यों पर चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ का खतरा मंडरा रहा है। यह आज गहरे दबाव के क्षेत्र में बदल जाएगा और उसके बाद अगले 24 घंटों में चक्रवाती तूफान का रूप ले लेगा।

PunjabKesari

17 मई को गुजरात तट को करेगा पार
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि अरब सागर में बने दबाव के क्षेत्र के 17 मई को ‘‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’’ में तब्दील होने और एक दिन बाद इसके गुजरात तट को पार करने की संभावना है। मौसम स्थिति गहरे दबाव के क्षेत्र में तब्दील हो गई है और इसके शनिवार सुबह तक चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ में तब्दील होने की संभावना है। फिर इसके शनिवार रात तक अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील होने की संभावना है।

PunjabKesari

150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी रफ्तार 
आईएमडी के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा कि 16-19 मई के बीच पूरी संभावना है कि यह 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाओं के साथ एक ‘‘अत्यंत भीषण चक्रवाती तूफान’’ में तब्दील होगा। हवाओं की रफ्तार बीच-बीच में 175 किलोमीटर प्रति घंटा भी हो सकती है। मौसम विभाग ने पश्चिमी तटीय राज्य को सतर्क किया है।

 

कुछ स्थानों में होगी बारिश
चेतावनी में कहा गया कि  लक्षद्वीप में 15 मई को कहीं-कहीं अत्यंत भारी बारिश होगी तथा 16 मई को कहीं-कहीं भारी बारिश होगी। 15 मई को कुछ स्थानों पर भारी से अत्यंत भारी तथा कुछ स्थानों पर 16-17 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है। कर्नाटक (तटीय एवं आसपास के जिलों) में 15 मई को अधिकतर स्थानों पर हल्की से मध्यम तथा कुछ स्थानों पर भारी से अत्यंत भारी तथा 16 मई को कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है।

PunjabKesari

गुजरात में सौराष्ट्र क्षेत्र में भारी बारिश की  आशंका
कोंकण और गोवा में 15-16 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है। आईएमडी ने कहा कि गुजरात में सौराष्ट्र क्षेत्र के तटीय जिलों में 16 मई से बारिश होने की संभावना है तथा 17 मई को भारी से अत्यंत भारी बारिश हो सकती है। वहीं, 18 मई को सौराष्ट्र और कच्छ में कुछ जगहों पर भारी से अत्यंत भारी तथा किसी-किसी स्थान पर अत्यंत भारी बारिश होने की संभावना है।
तूफान को ‘तौकते’ नाम म्यांमा ने दिया है जिसका मतलब ‘छिपकली’ होता है। इस साल भारतीय तट पर यह पहला चक्रवाती तूफान होगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vasudha

Related News

Recommended News