बंगाल में आज दस्तक दे सकता है चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल', 10km\hr की रफ्तार से बढ़ रहा आगे

11/8/2019 2:25:25 PM

भुवनेश्वर/कोलकाता: ओडिशा सरकार ने चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल' के कारण भारी बारिश होने की आशंका को देखते हुए राज्य के नौ जिलों में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और ओडिशा आपदा त्वरित कार्यवाही बल (ओडीआरएएफ) की टीमें शुक्रवार को तैनात कर दी है। इसके साथ ही राज्य के आठ जिलों में सभी स्कूलों को बंद करने की घोषणा की गई है और संबंधित जिलाधिकारियों को भी सतर्क कर दिया गया है। वहीं पश्चिम बंगाल में भी चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल' आज दस्तक दे सकता है। अभी यह 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। विशेष राहत आयुक्त प्रदीप जेना ने बताया कि जिलाधिकारियों को सतर्क रहने और स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए कहा गया है।

PunjabKesari

जिला कलेक्टरों को भारी बारिश के दौरान जरूरत पड़ने पर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि ओडीआरएएफ की दो-दो और एनडीआरएफ की एक-एक टीम नौ जिलों में तैनात की गई हैं। एहतियात के तौर पर केंद्रपाड़ा, पुरी, बालासोर, कटक, मयूरभंज, भद्रक, जयपुर और जगतसिंहपुर में स्कूलों को दो दिनों तक बंद करने के लिए कहा गया है। मौसम विभाग के सूत्रों ने बताया कि ‘बुलबुल' तबाही मचाने वाला चक्रवाती तूफान है और पश्चिम बंगाल एवं बंगलादेश में भी इसके दस्तक देने की आशंका है। चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल' से भद्रक, बालासोर, केंद्रपाड़ा, जगतसिंहपुर में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान लगाया गया है।

PunjabKesari

इसके अलावा मयूरभंज और जाजपुर जिले में मध्यम स्तर की बारिश हो सकती है। प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव पी के मिश्रा ने आपदा से निपटने की तैयारियों की समीक्षा के लिए ओडिशा के मुख्य सचिव असित कुमार त्रिपाठी के साथ उच्च-स्तरीय बैठक की। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राज्य के आठ जिलों में सभी स्कूल और आगनवाड़ी केंद्र 8 और 9 नवंबर को बंद रहेंगे। मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान ‘बुलबुल' के कारण 8 और 9 नवंबर को ओडिशा के उत्तरी तटीय जिलों में भारी से अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है।

PunjabKesari


Seema Sharma

Related News