कोरोना ने मचाई अबतक की सबसे बड़ी तबाही, पहली बार एक दिन में ढाई लाख से पार हुए मामले

2021-04-18T11:35:38.007

नेशनल डेस्क:  भारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,61,500 नए मामले सामने आने के साथ कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 1,47,88,109 पर पहुंच गए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक उपचाराधीन मामले 18 लाख के पार पहुंच गए हैं। मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे जारी आंकड़ों के मुताबिक 1,501 और संक्रमितों की मौत होने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,77,150 पर पहुंच गई। संक्रमण के मामलों में लगातार 39वें दिन वृद्धि हुई है। देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 18,01,316 हो गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का 12.18 प्रतिशत है जबकि संक्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर गिरकर 86.62 प्रतिशत रह गई है। 

PunjabKesari
एक दिन में 1495 लोगों की मौतआं
कड़ों के मुताबिक इस बीमारी से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 1,28,09,643 हो गई है और मृत्यु दर गिरकर 1.20 प्रतिशत हो गई है। भारत में कोविड-19 के मामले पिछले साल सात अगस्त को 20 लाख की संख्या पार कर गए थे। इसके बाद संक्रमण के मामले 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितंबर को 40 लाख और 16 सितंबर को 50 लाख के पार चले गए थे। वैश्विक महामारी के मामले 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर को एक करोड़ से अधिक हो गए थे। 

PunjabKesari

अब तक 26,65,38,416 नमूनों की हुई जांच
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के मुताबिक, 17 अप्रैल तक 26,65,38,416 नमूनों की जांच की जा चुकी है जिनमें से 15,66,394 नमूनों की जांच शनिवार को की गई। जिन 1,501 संक्रमितों की मौत हुई उनमें 419 महाराष्ट्र से, 167 दिल्ली से, 158 छत्तीसगढ़ से, 120 उत्तर प्रदेश से, 97 गुजरात से, 80 कर्नाटक से, 66 मध्य प्रदेश से, 62 पंजाब से और 39 संक्रमित तमिलनाडु से थे। कोरोना वायरस के कारण राजस्थान और उत्तराखंड में 37-37 लोगों की मौत हुई, बिहार और पश्चिम बंगाल में 34 -34 की, हरियाणा में 32 की, झारखंड में 30 की, केरल में 27 की, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में 15-15 संक्रमितों की और हिमाचल प्रदेश में 12 लोगों की मौत हुई। 

PunjabKesari
देश के राज्यों का यह है हाल
मंत्रालय की ओर से बताया गया कि कोरोना वायरस के कारण मरने वाले कुल 1,77,150 लोगों में से 59,970 महाराष्ट्र से थे, 13,270 कर्नाटक से, 13,071 तमिलनाडु से, 11,960 दिल्ली से, 10,540 पश्चिम बंगाल से, 9,703 उत्तर प्रदेश से, 7,834 पंजाब से और 7,388 आंध्र प्रदेश से थे। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मरने वाले 70 फीसदी से अधिक लोग अन्य रोगों से पीड़ित थे।


Content Writer

vasudha

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static