कोरोना वायरस: डॉक्टरों-नर्सों को किराये के मकानों से निकाला जा रहा, गृहमंत्री से की शिकायत

2020-03-25T23:45:30.48

नेशनल डेस्क: कोरोना महामारी के संकट के बीच लगातार लोगों का इलाज कर रहे डॉक्टरों, नर्सों और अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को उनके किराए के मकानों से निकाले जाने की खबरें सामने आ रही हैं. कुछ को जबरन निकाल भी दिया गया है। ऐसे में एम्स ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर इसकी शिकायत की।

डॉक्टरों ने दावा किया कि कुछ लोग आरोप लगा रहे हैं कि वे कोरोना वायरस के रोगियों का इलाज कर रहे हैं, इसलिए उनसे संक्रमण फैल सकता है। इसके बाद से प्रताड़ना की घटनाएं सामने आ रही हैं। एम्स के रेजिडेंट्स डॉक्टर्स एसोसिएशन (आरडीए) ने गृहमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें मकान मालिक परेशान कर रहे हैं और जबरन मकान खाली करा रहे हैं।
PunjabKesari
मंगलवार को एसोसिएशन ने शाह को लिखे अपने पत्र में कहा, ‘हमारा जो भी स्टाफ कोरोना वायरस की लड़ाई में शामिल है, उन्हें परेशानी उठानी पड़ रही है। जो भी डॉक्टर, नर्स और अन्य स्टाफ किराये के मकान में रह रहा है, उसे मकान मालिकों द्वारा वहां से जाने के लिए कहा जा रहा है। कई डॉक्टरों से जबरन घर खाली भी करा लिए गए हैं।’

मालूम हो कि बीते 19 फरवरी को राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार 22 मार्च को ‘जनता कर्फ्यू’ का ऐलान किया था। इस दौरान उन्होंने कोरोना वायरस की रोकथाम में लगे डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ का धन्यवाद देने के लिए लोगों से शाम पांच बजे अपने घर की बालकनी में आकर ताली बजाने और थाली पीटने की अपील की थी
PunjabKesari
पत्र में कहा गया, ‘आसपास के लोग डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्यकर्मियों को संदेह की नजर से देख रहे हैं। वे सोचते हैं कि उनकी वजह से उन्हें भी कोरोना वायरस का संक्रमण हो सकता है।’ पत्र में डॉक्टरों ने कहा है कि मकान खाली करने की धमकी की वजह से कई डॉक्टर सड़क पर आ गए हैं, क्योंकि उनके पास रहने को घर नहीं है। अस्पताल की ड्यूटी खत्म करने के बाद इन डॉक्टरों को सड़कों पर ही रात बितानी पड़ रही है।

एम्स आरडीए के अध्यक्ष डॉ. आदर्श प्रताप सिंह ने गृह मंत्री को लिखे पत्र में उनसे इस मामले में तत्काल कारगर कदम उठाने की अपील करते हुए मकान मालिकों को चिकित्साकर्मियों से किराए के घर खाली नहीं कराने का आदेश जारी करने का अनुरोध किया है।
PunjabKesari
इस मामले के सामने आने के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने आरडीए को आश्वासन दिया है कि इस तरह की घटनाओं को गंभीरता से लिया जाएगा और तुरंत इस पर कार्रवाई होगी। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को दिल्ली के पुलिस आयुक्त एसएन श्रीवास्तव से उन डॉक्टरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा जो कोरोना वायरस के संकट के दौर में कुछ लोगों के खराब बर्ताव का सामना कर रहे हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।
 


Yaspal

Related News