अक्टूबर में कोर उत्पादन 2.5 प्रतिशत गिरा

2020-11-27T19:59:36.13

नई दिल्ली: देश में प्रमुख आठ उद्योगों की उत्पादन दर (कोर उत्पादन) अक्टूबर, 2020 में 2.5 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है। सरकार ने शुक्रवार को यहां जारी आंकडों में बताया कि सितंबर 2020 में कोर उत्पादन में 0.1 प्रतिशत की कमी आयी थी। जबकि अक्टूबर 2019 में यह आंकडा 5.5 गिरावट में प्रतिशत था। चालू वित्त वर्ष में अभी तक कोर उत्पादन में 13 प्रतिशत की कमी आयी है। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आंकडा 0.3 प्रतिशत रहा था। कोर उत्पादन के सूचकांक में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली उद्योग शामिल है।

कोयला के उत्पादन में 11.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज
अक्टूबर 2020 में कोयला के उत्पादन में 11.6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। चालू वित्त वर्ष में इसके उत्पादन में 3.6 प्रतिशत की कमी आयी है। इसी माह में कच्चा तेल का उत्पादन 6.2 प्रतिशत गिरा है। अप्रैल से अक्टूबर 2020 की अवधि में इसके उत्पादन में 6.1 प्रतिशत की कमी आयी है। आलोच्य माह में प्राकृतिक गैस का उत्पादन 8.6 प्रतिशत घटा है। चालू वित्त वर्ष में अभी तक इसका उत्पादन 12.5 प्रतिशत लुढ़का है। इसी माह में रिफाइनरी के उत्पादन में 17 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है।

पहले सात महीनों में इसके उत्पादन में 22.8 प्रतिशत की कमी
अक्टूबर 2020 में उर्वरक के उत्पादन में 6.3 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। अप्रैल से अक्टूबर, 2020 में इसके उत्पादन में 4.1 प्रतिशत की तेजी आयी है। इसी माह में इस्पात का उत्पादन 2.7 प्रतिशत गिरा है और चालू वित्त वर्ष के पहले सात महीनों में इसके उत्पादन में 22.8 प्रतिशत की कमी आयी है। आलोच्य माह में सीमेंट का उत्पादन 2.8 प्रतिशत बढा है। चालू वित्त वर्ष के पहले सात महीनो में अभी तक इसका उत्पादन 21.3 प्रतिशत लुढ़का है। इसी माह में बिजली के उत्पादन में 10.5 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है। अप्रैल से अक्टूबर की अवधि में इसके उत्पादन में 5.6 प्रतिशत की कमी आयी है। 


Author

rajesh kumar

Recommended News