See More

नागरिकता बिल: उद्धव ने राहुल गांधी की नहीं सुनी बात, शिवसेना के वॉकआउट से कांग्रेस खफा

2019-12-12T09:56:45.61

मुंबई/नई दिल्ली: कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के नेता रत्नाकर महाजन ने बुधवार को नागरिकता (संशोधन) विधेयक पर मतदान के दौरान राज्यसभा से वॉकआउट को लेकर शिवसेना की खिंचाई की। हालांकि, राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन की अन्य साझेदार राकांपा ने कहा कि वोटिंग का वॉकआउट करके शिवसेना ने यह संदेश दिया कि वह प्रस्तावित कानून के विवादास्पद पहलुओं पर भाजपा जैसे विचार नहीं रखती है। बता दें कि लोकसभा में शिवसेना के स्टैंड पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इशारों-इशारों में नाराजगी जताई थी।

PunjabKesari

माना जा रहा था कि उद्धव ठाकरे राहुल गांधी को राज्यसभा में नाराज नहीं करेंगे लेकिन शिवसेना ने वॉकआउट करके कांग्रेस की नाराजगी और बढ़ा दी है। राज्यसभा में विधेयक के पक्ष में 125 मत और विरोध में 105 मत पड़े। शिवसेना ने कुछ मुद्दों पर स्पष्टीकरण मांगते हुए सदन से वॉकआउट किया। महाजन ने फेसबुक पोस्ट में कहा, “दुखद, दुर्भाग्यपूर्ण... क्या संजय राउत का विधेयक पर भाषण इस मुद्दे पर शिवसेना के भ्रम का संकेत है या सभी विकल्पों को खुला रखने का विचार है?

PunjabKesari

स्पष्टीकरण के नाम पर कार्यवाही का बहिष्कार करने का उनका कदम बचाव लायक नहीं है और यह मानना बेवकूफी होगी कि उसे नहीं समझ आया कि बहिष्कार करने से सत्तारूढ़ पार्टी को मदद मिलेगी। हालांकि राकांपा प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि शिवसेना वॉकआउट का मतलब था कि वह विधेयक के मुद्दे पर भाजपा जैसे विचार नहीं रखते हैं। अन्य राकांपा नेता ने नाम उजागर न करने की शर्त पर कहा कि अगर शिवसेना ने वोट किया भी होता तो उसके तीन मतों से विपक्ष को कोई फायदा नहीं होता।

PunjabKesari


Seema Sharma

Related News