See More

corona virus से एशिया के एक करोड़ 10 लाख लोग हो जाएंगे गरीब: रिपोर्ट

2020-03-31T13:09:52.11

चीन: चीन से फैले जानलेवा कोरोना वायरस की दहशत पूरी दुनिया में बढ़ती जा रही है। पूरे देश में लॉकडाउन होने के बाद भी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा कम होने का नाम नहीं ले रहा है। इसी  बीच  वर्ल्ड बैंक की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक इस वैश्विक महामारी  के चलते एशिया में करीब 1.1 करोड़ लोग गरीब हो जाएंगे। रिपोर्ट के मुताबिक महामारी के कारण इस साल चीन तथा अन्य पूर्वी एशिया प्रशांत देशों में अर्थव्यवस्था की रफ्तार बहुत धीमी रहने वाली है।

विकास की रफ्तार रह सकती है 2.1 फीसदी 
वर्ल्ड बैंक का यह भी कहना है कि पूर्वी एशिया में इस साल विकास की रफ्तार 2.1 फीसदी रह सकती है, जो 2019 में 5.8 फीसदी थी। अनुमान है कि 1.1 करोड़ से अधिक संख्या में लोग गरीबी के दायरे में आ जाएंगे। कोरोना संकट से पहले वर्ल्ड बैंक का अनुमान था कि इस वर्ष विकास दर पर्याप्त रहेगी और 3.5 करोड़ लोग गरीबी रेखा से ऊपर उठ जाएंगे। यह अनुमान पहले के उस अनुमान के विपरीत है, जिसमें कहा गया था कि इस वर्ष विकास दर पर्याप्त रहेगी और 3.5 करोड़ लोग गरीबी रेखा से ऊपर उठ जाएंगे। इसमें कहा गया है कि चीन की विकास दर भी पिछले साल की 6.1 फीसदी से घटकर इस साल 2.3 फीसदी रह जाएगी।


दुनिया भर में अब तक 37519 लोगों की मौत
विश्व के अधिकांश देशों में फैल चुके कोरोना वायरस (कोविड 19) का प्रकोप थमने का नाम नहीं लेे रहा है और इस खतरनाक वायरस से दुनिया भर में अब तक 37519 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 781656 लोग इससे संक्रमित हैं। भारत में भी कोरोना वायरस के 180 नये मामले सामने आने के बाद इसके संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1251 हो गई है जबकि तीन और मरीजों की मौत होने की बाद मृतकों का आंकड़ा 32 हो गया है।


Edited By

Anil dev

Related News