खतरनाक! घर में परिजनों को सुपाड़ी खाते देख 5 साल की बच्ची भी हुई 'नशे की आदी', हुआ कैंसर

punjabkesari.in Friday, May 13, 2022 - 11:52 AM (IST)

नई दिल्ली: बच्चों में संस्कारों का विकास हमेशा घर के बड़े-बुजुर्गों से ही होता है। इसलिए घर में सबसे पहले बड़ों को अपने आचरण को सही रखने की जरूरत है।  इसी से संबंधित एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। 

दरअसल, एक बच्ची के लिए उसके परिजनों की सुपाड़ी खाने की लत बेहद खतरनाक साबित हुई। परिजनों को देखकर वह भी सुपाड़ी खाने की इतनी आदी हो गई कि उसे मुंह का कैंसर हो गया।  5 साल की मासूम का इलाज अब मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। मासूम रीना का इलाज कर रहीं मौलाना आजाद डेंटल कॉलेज की ओरल मेडिसिन एंड रेडियोलॉजी सकी प्रमुख डॉ. सुनीता गुप्ता ने बताया कि रीना के परिजनों से बातचीत की गई तो पता चला कि उनके घर में सुपाड़ी काटकर रख देते थे और आते-जाते उठा कर खा लेते थे, जिसे देख बच्ची भी वैसा ही करने लगी। परिजनों को देख रीना ने भी सुपाड़ी खाना शुरू कर दिया। कुछ दिनों के अंदर ही वह सुपाड़ी की आदी हो गई।
 

लगातार सुपाड़ी खाने की वजह से रीना ने दूध तक पीना बंद कर दिया और फिर इसके बाद उसने खाना भी छोड़ दिया, यहां तक कि उसका मुंह खुलना बंद हो गया था।  जांच में पता चला कि रीना को फर्स्ट स्टेज का कैंसर हो गया हैं। वहीं इससे पहले परिजन इलाज के बजाय झाड़-फूंक कराने में समय बर्बाद करते रहे।
 

परिजन: डॉ. सुनीता गुप्ता ने बताया कि परिजन ये बात मानने को राजी ही नहीं थे कि बच्ची को कैंसर हो गया है। परिजनों का दावा था कि झाड़-फूंक के बाद उसका मुंह खुलने लगेगा। ऐसे में परिजन रीना को लेकर क चले गए। कुछ दिनों बाद ही रीना की हालत ज्यादा नाजुक हो गई। जिसके बाद परिजन दोबारा मौलाना आजाद ल मेडिकल कॉलेज लेकर आए। जहां उसका इलाज चल रहा है। डॉक्टर का कहना है कि उसकी हालत अब खतरे से बाहर है। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Related News

Recommended News