दिल्ली: चंद्रबाबू के अनशन में पहुंचे राहुल-मनमोहन और केजरीवाल, 'टारगेट' PM मोदी

2/11/2019 2:16:45 PM

नई दिल्ली: तेलुगू देशम पार्टी(तेदेपा) प्रमुख और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू राज्य को विशेष श्रेणी का दर्जा नहीं दिए जाने को लेकर आज यहां 12 घंटे के उपवास और धरने पर हैं। पार्टी सूत्रों ने बताया कि नायडू यहां आंध्रप्रदेश भवन में सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक ‘‘धर्म पोराता दीक्षा( न्याय के लिए संघर्ष) धरने पर हैं और वह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को मंगलवार को एक ज्ञापन भी देंगें। नायडू के इस उपवास में पार्टी के सभी सांसद, विधायक, राज्य के मंत्री और विधान परिषद के सदस्य हिस्सा लेंगे। नायडू के अनशन में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी समर्थन देने के लिए पहुंचे।

PunjabKesari

ये बोले राहुल गांधी

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के लोगों से झूठ बोला है और अब उनकी कोई विश्वसनीयता नहीं रही। आगामी लोकसभा चुनाव में विपक्षी दल प्रधानमंत्री को हराएंगे।
  • मैं यह सवाल पूछना चाहता हूं कि जब प्रधानमंत्री कोई वादा करता है तो उसे अपने वादे पर टिके रहना चाहिए या नहीं? यह किस तरह के प्रधानमंत्री हैं? उन्होंने वादा किया लेकिन अब पूरा नहीं कर रहे हैं।’’
  • क्या आंध्र प्रदेश इस देश का हिस्सा नहीं है? उनकी हिम्मत कैसे हुई कि उन्होंने आंध्र प्रदेश के लोगों से किए वादे को पूरा नहीं किया? मैं आंध्र के लोगों के साथ खड़ा हूं।’’

PunjabKesari
मनमोहन सिंह ने साधा मोदी पर निशाना
पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार को आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने का वादा अविलंब पूरा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि संसद में जब इस मुद्दे पर चर्चा हुई थी तो सभी पार्टियों ने इस मांग का समर्थन किया था। मैं नायडू के साथ खड़ा हूं। सिंह ने कहा कि बिना किसी विलंब के आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिया जाना चाहिए।

PunjabKesari

नायडू की रैली के प्रमुख अंश

  • पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कहा था कि गुजरात में (2002 दंगों के दौरान) राज धर्म का पालन नहीं हुआ। अब आंध्र प्रदेश में भी राज धर्म नहीं निभाया गया। हमें वह देने से इनकार किया जा रहा है जो जायज तौर पर हमारा है।
  • केन्द्र सरकार ने आंध्र प्रदेश में घोर अन्याय किया है और इसका असर राष्ट्रीय एकता पर पड़ेगा। -मैं पांच करोड़ लोगों की ओर से इस सरकार को आगाह कर रहा हूं...मैं यहां उन्हें ‘आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम’ में किए वादें याद दिलाने आया हूं।
  • मैं आपको चेतावनी दे रहा हूं। मेरे और मेरे लोगों के खिलाफ निजी हमले ना करें। यह अनुचित है। मैं राज्य प्रमुख के तौर पर अपने कर्तव्य पूरे कर रहा हूं। हम वही मांग रहे हैं जिसका हमसे वादा किया गया था।’’
  • अगर कोई हमारे आत्मसम्मान पर हमला करेगा तो हम इसे बर्दाश नहीं करेंगे।’’
  • तेदेपा को संसद परिसर में प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं दी गई। ‘‘इसलिए हम यहां आए हैं।’’
    PunjabKesari

Seema Sharma

Related News