बेकाबू हो रहा Bird Flu: राजस्थान में एक दिन में  443 पक्षियों की मौत, अब तक 10 राज्य आए चपेट में

2021-01-14T11:02:38.87

नेशनल डेस्क: महामारी काेरोना संकट के बीच बर्ड फ्लू ने देश में कहर बरपाना शुरू कर दिया है। देश में दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात को मिलाकर अबतक दस राज्यों इसकी चपेट में आ चुके हैं। अकेले  राजस्थान में एक दिन में  443 पक्षियों की मौत की खबर सामने आई है।  राज्य के 33 में से 16 जिले बर्ड फ्लू संक्रमण से प्रभावित है। 

PunjabKesari

राजस्थान में अब तक 4,390 पक्षियों की मौत
पशुपालन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार जांच के लिए भेजे गए 251 नमूनों में से 62 नमूनों में संक्रमण पाया गया है। बुधवार को 296 कौए, 34 कबूतर, 16 मौर और 97 अन्य पक्षियों की मौत हो गई। रिपोर्ट के मुताबिक 25 दिसम्बर से अब तक राज्य में 4,390 पक्षियों की मौत हो चुकी है। विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य के पोल्ट्री फार्म बर्ड फ्लू संक्रमण से अब तक सुरक्षित है। पिछले कुछ दिनों में विभाग ने कोटा, बूंदी और झालावाड़़ पोल्ट्री फार्म के नमूनों को जांच लिये भेजा था और रिपोर्ट में नमूनों में संक्रमण नहीं पाया गया। उदयपुर जिला भी सुरक्षित है क्योंकि वहां अभी तक मृत पक्षी नहीं पाए गए हैं। 

PunjabKesari

 

ऐसे बरतें सावधानी 

  • बीमार दिखने वाले व संक्रमित चिकन के संपर्क में आने से बचें।
  • पक्षी के मल के सीधे संपर्क से बचें। 
  • पक्षियों को खिलाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कटोरे और उनके पिंजरों को साबुन या डिटर्जेंट से अच्छी तरह से धोएं।''
  •  चिकन की दुकानों से निकलने वाले सभी कचरे का निपटान सही तरीके से किया जाना चाहिए। 
  • परामर्श में लोगों को सावधान किया गया कि वे सीधे हाथों से मृत पक्षियों को न छूएं।
  •  यदि कोई पक्षी मृत पाया जाता है, तो नियंत्रण कक्ष को फोन नंबर 23890318 पर सूचित करें। 
  • 0 मिनट तक 70 डिग्री सेल्सियस पर पूरी तरह पकाए गए अंडे और पॉल्ट्री उत्पाद को ही खाएं। 
  • आधा-पका हुआ चिकन या आधा उबला हुआ और आधा तला हुआ अंडा नहीं खाएं।
  •  उसमें कहा गया कि पके हुए मांस के पास कच्चे मांस को न रखें। 
  • कच्चे पोल्ट्री उत्पादों को छूते समय बार-बार हाथ धोएं। व्यक्तिगत स्वच्छता का ध्यान रखें और आसपास में सफाई बनाए रखें। 

PunjabKesari

 

झारखंड और जम्मू में आए नए मामले सामने 
वहीं केंद्र ने बुधवार को बताया कि देश के नौ राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में अब तक बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है, जबकि पक्षियों की अस्वभाविक मौत होने के नये मामले झारखंड और जम्मू कश्मीर में सामने आये हैं। केंद्र ने राज्य सरकारों को पॉल्ट्री उत्पादों की आपूर्ति पर प्रतिबंध नहीं लगाने को कहा है। सोमवार तक दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, केरल, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और गुजरात में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी। 

PunjabKesari

कई राज्य पॉल्ट्री उत्पादों पर लगा रहे रोक 
मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि13 जनवरी तक 10 राज्यों में एवियन इंफ्लूएंजा के मामलों की पुष्टि हुई है। जम्मू कश्मीर के गंदेरबल जिले और झारखंड के चार जिलों में भी पक्षियों की अस्वाभाविक मौतें हुई हैं। मंत्रालय ने राज्यों से यह सुनिश्चित करने को कहा है कि संक्रमण का प्रसार पॉल्ट्री केंद्रों में  नहीं हो क्योंकि इससे पॉल्ट्री किसानों को भारी आर्थिक नुकसान होगा। बयान में कहा गया है कि यह पाया गया है कि कई राज्य अन्य राज्यों से पॉल्ट्री और पॉल्ट्री उत्पादों की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा रहे हैं। यह पॉल्ट्री उत्पादों पर नकारात्मक प्रभाव डालेगा, इसलिए राज्यों से ऐसे फैसले पर पुनर्विचार करने को कहा गया है। 

PunjabKesari
दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया परामर्श
इसके अलावा दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने शहर में बर्ड फ्लू के मामलों के मद्देनजर बुधवार को एक परामर्श जारी किया जिसमें लोगों से नहीं घबराने और आधा पका चिकन, आधा उबला या आधा तला हुआ अंडा नहीं खाने समेत दिशा-निर्देशों के पालन की अपील की गई है। पिछले एक सप्ताह में संजय झील में कई बत्तख और शहर के विभिन्न पार्कों में बड़ी संख्या में कौवे मृत पाए गए हैं। राजस्व विभाग ने शहर की सीमाओं पर स्वयंसेवकों की टीमों को तैनात किया है ताकि अवैध रूप से बाहर से लाए रहे पशुओं व डिब्बाबंद और परिसंस्कृत चिकन पर रोक लगाई जा सके।  स्वास्थ्य विभाग ने परामर्श जारी करते हुए लोगों से एहतियात बरतने और नहीं घबराने की अपील की। 



 


vasudha

Recommended News