डबल इंजन की सरकार में बिहार को नहीं मिला विशेष राज्य का दर्जा तो कभी नहीं मिलेगा: मांझी

06/05/2021 9:59:46 PM

नेशनल डेस्कः बिहार में भारतीय जनता पाटर्ी (भाजपा) के सहयोगी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की है। मांझी ने शनिवार को सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर ट्वीट कर कहा कि कम संसाधनों के बावजूद नीतीश कुमार ने बिहार के बदतर क़ानून व्यवस्था और बेहाल शिक्षा महकमे को दुरुस्त करने में अपनी पूरी ताक़त लगा दी है । 

अब आधारभूत संरचना को ठीक करने के लिए विशेष राज्य के दर्जे की ज़रूरत है। पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष मांझी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार में बिहार को विशेष दर्जा नहीं मिला तो कभी नहीं मिलेगा।   

इससे पहले जदयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा कि बिहार की स्थिति पहले से ही बहुत खराब थी । झारखंड के अलग होने के बाद उसकी स्थिति और भी खराब हो गई । संसाधनों की कमी के बावजूद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बहुत अच्छा काम किया है लेकिन बिहार को अन्य राज्यों के बराबर खड़ा होने के लिए विशेष राज्य का दर्जा दिया जाना जरूरी है ।

जदयू के राष्ट्रीय संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से विशेष राज्य का दर्जा देकर बिहार के साथ न्याय करने की मांग की है। 

कुशवाहा ने शनिवार को सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि बिहार और झारखंड विभाजन के उपरांत प्राकृतिक संपदाओं का अभाव और बिहारवासियों पर प्राकृतिक आपदाओं के लगातार दंश के बावजूद नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए सरकार अपने कुशल प्रबंधन से बिहार में विकास की गति देने में लगी है लेकिन वर्तमान दर पर अन्य राज्यों से उसकी बराबरी संभव नहीं है। 

नीति आयोग की हालिया रिपोर्ट इसका प्रमाण है। इसलिए विनम्र निवेदन है कि‘बिहार को विशेष राज्य का दर्जा'देने की जदयू की वर्षों से लंबित मांग पर विचार करें और बिहार वासियों को न्याय दें। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Yaspal

Recommended News