अमेठी से चुनाव लड़ूंगा या नहीं, राहुल गांधी ने दिय़ा बड़ा अपडेट, कहा- मेरी छवि खराब करने के लिए बीजेपी खर्च कर रही करोड़ों रुपये

punjabkesari.in Monday, Nov 28, 2022 - 02:57 PM (IST)

नेशनल डेस्क: भारत जोड़ों यात्रा के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि यह यात्रा देश की आवाज उठा रही है। इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली में हुए सनसनीखेज श्रद्धा हत्याकांड को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि हत्या 30 मई को हुई, शव के 10 टुकड़े किए गए, अभी तक छह टुकड़े बरामद हुए है। वहीं राहुल गांधी ने कहा कि अमेठी से दोबारा चुनाव लड़ने का फैसला एक-डेढ़ साल बाद किया जाएगा। फिलहाल मेरा ध्यान ‘भारत जोड़ो यात्रा' पर है। 

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा पर उनकी छवि खराब करने के लिए करोड़ों रुपए खर्च करने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस)‘रिजिड'(कठोर) तरीके से सरकार चला रहे हैं और देश की आवाज सुनने को तैयार नहीं हैं।  गांधी आज अपनी‘भारत जोड़ो यात्रा'के दौरान इंदौर के करीब बरौली में संवाददाताओं से चर्चा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने यात्रा के बीच स्वयं पर हो रहे व्यक्तिगत हमलों को लेकर कहा कि भाजपा उनकी छवि खराब करने केे लिए हजारों करोड़ रुपए खर्च कर रही है।

उन्होंने कहा कि हालांकि इस बात से उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंच रहा। भाजपा इस काम में जितना पैसा लगा रही है, उतनी ही उन्हें (श्री गांधी को) मजबूती मिल रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि इससे उन्हें स्पष्ट हो जाता है कि वे सही दिशा में जा रहे हैं। देश में महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि देश में वर्तमान में कुछ ही लोगों के हाथों में पूरा धन दे दिया गया है। सभी उद्योगों में कुछ ही लोगों का बोलबाला है। इसी क्रम में उन्होंने आरोप लगाया कि देश की नींव के तौर पर काम करने वाले किसानों को पूरी तरह छोड़ दिया गया है। हर स्थान पर निजीकरण होने से स्थितियां और बिगड़ गई हैं। छोटे और मझोले उद्योग, जिनमें वृद्धि की क्षमताएं हैं, उन्हें खत्म कर दिया गया है। आरएसएस और भाजपा‘रिजिड'होकर देश चला रहे हैं। सरकार बनने की स्थिति में कांग्रेस का ध्यान किस ओर रहेगा, इस संबंध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस का ध्यान छोटे और मध्यम उद्योगों की ओर रहेगा।

उन्होंने अपना मत देते हुए कहा कि शिक्षा और स्वास्थ्य सरकार की मुख्य जिम्मेदारी है। निजी क्षेत्र अगर चाहें तो इनमें काम कर सकते हैं, लेकिन इनमें सरकार को ही ज्यादा पैसा लगाना चाहिए। एक अन्य सवाल के जवाब में  गांधी ने कहा कि उनकी यात्रा का मूल उद्देश्य देश को उसका मूल स्वभाव, संस्कृति और डीएनए याद दिलाना है। उन्होंने कई बार दोहराया कि उनकी यात्रा को राजनीतिक द्दष्टि से नहीं देखा जाना चाहिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Anu Malhotra

Related News

Recommended News