गुजरात: 68 लड़कियों के उतरवाए कपड़े, पुलिस ने मामला किया दर्ज, जांच के आदेश

2020-02-14T18:29:42.103

नेशनल डेस्कः गुजरात के भुज में गर्ल्स कॉलेज में पीरियड्स चेक करने के लिए छात्राओं के कपड़े उतरवाए जाने के मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया गया है। गुजरात पुलिस ने कॉलेज की प्रिसिंपल और महिला वार्डन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। गुजरात पुलिस ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। इससे पहले इस मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्लू) ने संज्ञान लिया। एनसीडब्लू ने इसे परेशान करने वाली घटना बताया। इसके लिए जांच समिति गठित की है जो हॉस्टल का दौरा करेगी। साथ ही लड़कियों को ऐसी घटनाओं पर आगे आने और बोलने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
PunjabKesari
गुजरात के भुज जिले में श्री सहजानंद गर्ल्स इंस्टीट्यूट में यह सनसनीखेज घटना सामने आई है। यह खबर एक स्थानीय मीडिया संस्थान में प्रकाशित होने के बाद सामने आई है। इस मीडिया संस्थान की रिपोर्ट के अनुसार लड़कियों को कॉलेज में पीरियड्स के दौरान किसी भी अन्य छात्र या छात्रा से हाथ मिलाने या गले मिलने की भी अनुमति नहीं है।
PunjabKesari
यह विवाद तब शुरू हुआ जब हॉस्टल के गार्डन में इस्तेमाल किया हुआ सैनिटरी पैड मिला। इसके बाद वॉर्डन को शक हुआ कि यह हॉस्टल की किसी लड़की ने ऐसा किया होगा और पैड को इस्तेमाल करने के बाद वॉशरूम की खिड़की से फेंक दिया होगा। यह पता लगाने के लिए आखिर ऐसा किस लड़की ने किया है वॉर्डन ने वॉशरूम में लड़कियों के कपड़े उतरवाकर चेकिंग की।
PunjabKesari
इस मामले में कॉलेज की डीन दर्शना ढोलकिया ने कहा कि यह मामला हॉस्टल का है और इसका यूनिवर्सिटी/कॉलेज से कोई लेना-देना नहीं है। जो कुछ भी हुआ है वह लड़कियों की अनुमति से हुआ है। किसी ने भी इसके लिए लड़कियों को मजबूर नहीं किया। उन्होंने बताया कि इस मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन किया गया है।
PunjabKesari
बता दें कि पीरियड्स को लेकर हॉस्टल ने नियम बना रखा है। इस नियम के मुताबिक, जिस लड़की को पीरियड्स होंगे वह हॉस्टल में नहीं रहेगी। उस युवती के लिए हॉस्टल के बेसमेंट में रहने की जगह बनाई गई है और किसी से भी मिलेगी-जुलेगी नहीं। इतना ही नहीं उसके किचन और पूजा स्थल में जाने पर भी मनाही है। इस दौरान उसके खाना खाने के लिए भी बर्तन अलग है। क्लास में युवतियों को पीछे बैठने के निर्देश दिए गए हैं। 

 


Yaspal

Related News