देश में ‘डेल्टा प्लस’ वेरिएंट के 40 केस, सबसे ज्यादातर मामले महाराष्ट्र-केरल और MP से

06/23/2021 12:28:58 PM

नेशनल डेस्क: केंद्र सरकार ने बताया कि भारत में कोरोना वायरस के ‘डेल्टा प्लस'  (Delta Plus Variant) स्वरूप के 40 से ज्यादा मामलों का पता चला है। केरल, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि भारत उन दस देशों में से एक है, जहां अब तक ‘डेल्टा प्लस' स्वरूप मिला है। उन्होंने कहा कि 80 देशों में ‘डेल्टा स्वरूप' का पता चला है।

PunjabKesari

इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि भारतीय सार्स कोव-2 जीनोमिक्स कंसोर्टियम (आईएनएसएसीओजी) ने सूचना दी थी कि डेल्टा प्लस स्वरूप, ‘‘वर्तमान में चिंताजनक स्वरूप (वीओसी)'' है, जिसमें तेजी से प्रसार, फेफड़े की कोशिकाओं के रिसेप्टर से मजबूती से चिपकने और ‘मोनोक्लोनल एंटीबॉडी' प्रतिक्रिया में संभावित कमी जैसी विशेषताएं हैं।

PunjabKesari

कोरोना वायरस का ‘डेल्टा प्लस' स्वरूप भारत के अलावा, अमेरिका, ब्रिटेन, पुर्तगाल, स्विट्जरलैंड, जापान, पोलैंड, नेपाल, चीन और रूस में मिला है। भूषण ने कहा कि ‘डेल्टा प्लस' स्वरूप के मामले महाराष्ट्र के रत्नागिरि और जलगांव तथा केरल और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में मिले हैं। उन्होंने कहा भारत के अतिरिक्त नौ और देशों में डेल्टा प्लस स्वरूप का पता चला है।

PunjabKesari

भूषण ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया के बारे में एक परामर्श जारी किया है कि महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और केरल को इस मुद्दे पर पहल की शुरुआत करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी संख्या के लिहाज से यह काफी छोटा दिखता है और हम नहीं चाहते कि इसमें वृद्धि हो।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Recommended News