पीएम मोदी की सुरक्षा के लिए क्वारंटाइन हुए 350 पुलिस अफसर, 15 अगस्‍त को देंगे गार्ड ऑफ ऑनर

2020-08-09T11:42:34.53

नेशनल डेस्क: इस बार स्‍वतंत्रता दिवस समारोह में वो धूमधाम नहीं दिखाई देगी जो हर साल देखने को मिलती है। देश में आए कोरोना संकट ने सबकुछ बदल डाला है, जिसका नतीजा यह है कि इस बार स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम को लेकर कुछ खास इंतजाम किए गए हैं। समारोह से पहले ही 350 पुलिसवालों को क्वारंटीन कर दिया गया है, यह सब वह हैं जो 15 अगस्‍त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गार्ड ऑफ ऑनर देने के कार्यक्रम का हिस्‍सा लेंगे। 

 

पुलिस सूत्रों की माने तो पीएम मोदी की सुरक्षा को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। दिल्‍ली कैंट में बनी नई पुलिस कॉलोनी  में 350 पुलिसवालों को शिफ्ट किया गया है। इनमें कॉन्‍सटेबल रैंक से लेकर डीसीपी रैंक तक के पुलिस अफसर शामिल हैं। संक्रमण के लक्षणों की जांच के साथ साथ इन सभी के शरीर के तापमान को भी रोजाना रिकॉर्ड किया जाता है। 

 

पुलिस अघिकरियों ने बताया कि सभी को क्‍वारंटाइन हुए 8 दिन से अधिक हो गए हैं। कॉम्‍प्‍लेक्‍स के अंदर सोशल डिस्‍टेंसिंग का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है। किसी में भी कोरोना वायरस का लक्षण नहीं दिखा। बता दें कि रेड कार्पेट पर गार्ड ऑफ ऑनर के वक्त खुद प्रधानमंत्री, कमांडर और जवानों के बीच से होकर गुजरते हैं, जिसको ध्यान में रखकर यह फैसला लिया गया है। ताकि इसमें शामिल होने वाले देश के पीएम समेत VVIP और VIP अधिकारी, जवान हर कोई कोरोना महामारी से बचे रहें। 

गौरतलब है कि 15 अगस्त के कार्यक्रम में हर साल करीब 10 हजार स्कूली बच्चे शामिल होते थे, लेकिन इस बार उन्हें नहीं बुलाया गया है। स्कूली बच्चों की जगह 500 एनसीसी कैडेट्स को कोरोना वॉरियर्स को आमंत्रित किया गया है। 15 अगस्त के दिन पैराग्लाइडर, ड्रोन और दूसरे फ्लाइंग ऑब्जेक्ट को लेकर पूरी तरह सतर्क रहने को कहा गया है। इसके अलावा पुरानी कार की खरीद फरोख्त में जुटे कारोबारी, गेस्ट हाउस, सायबर कैफे, होटल्स, किरायेदार वेरिफिकेशन पर भी नजर रखने की हिदायत दी गई है। 


vasudha

Related News