मुंबई की एक हाउसिंग सोसाइटी में हुए वैक्सीनेशन स्कैम को लेकर हिरासत में लिए गए 3 लोग, पूछताछ जारी

2021-06-17T15:27:46.947

नेशनल डेस्क: मुंबई के कांदीवली इलाके की एक हाउसिंग सोसायटी में रहने वाले लोग वैक्सीनेशन स्कैम का शिकार हो गए हैं। इन लोगों ने दावा किया है कि उनहें नकली कोविड-19 रोधी टीके लगाए गए हैं। 30 मई को 390 लोगों को हीरानंदानी हाउसिंग सोसायटी परिसर में ही कोविशील्ड का टीका लगाया गया! अब मुंबई पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है जो कथित तौर पर शहर में फर्जी कोविड-19 टीकाकरण अभियान चला रहे थे। आरोपी शहर के विभिन्न सोसाइटियों, कॉलेजों और कार्यस्थलों पर जाकर इसी तरह लोगों को टीका लगा कर उन्हें लूट रहे थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस मामले में जल्द ही एक प्राथमिकी दर्ज की जाएगी और तीनों की गिरफ्तारी की संभावना है। फिलहाल उनसे पूछताछ की जा रही है और उनके बयान दर्ज किए जा रहे हैं।

आपको बता दें कि सोसायटी में रहने वाले लोगों के मुताबिक, राजेश पांडे नाम के एक शख्स ने खुद को कोकिलाबेन अंबानी अस्पताल का प्रतिनिधि बताते हुए सोसायटी कमेटी के सदस्यों से संपर्क किया था। इस टीकाकरण अभियान का संचालन संजय गुप्ता नाम के एक व्यक्ति ने किया था जबकि महेंद्र सिंह नाम के व्यक्ति ने सोसायटी के सदस्यों से पैसा इकट्ठा किए थे।

इसी सोसायटी में रहने वाले हितेश पटेल ने बताया कि उनके बेटे को भी टीका लगा था और हर डोज़ के लिए उनसे 1260 रुपए लिए गए। उन्होंने बताया कि टीका लगने के बाद उनके मोबाइल पर कोई मैसेज नहीं आया है। इसके अलावा टीका लगवाने के दौरान हमें किसी भी तरह की सेल्फी या फोटो खींचने की अनुमति नहीं दी गई। उनका कहना है कि 390 लोगों ने 1260 रुपए प्रति टीके के हिसाब से भुगतान किया जोकि 4,91,400 रुपए बनते हैं। वैसे सोसाइटी के लोगों द्वारा कुल मिला कर पांच लाख रुपए की ठगी होने की आशंका जताई जा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Hitesh

Recommended News