अबू धाबी में संदिग्ध ड्रोन हमले में 2 भारतीयों समेत तीन लोगों की मौत, 6 घायल

punjabkesari.in Monday, Jan 17, 2022 - 07:29 PM (IST)

दुबई: अबू धाबी में सोमवार को तीन तेल टैंकरों में विस्फोट और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के मुख्य हवाई अड्डे के एक विस्तार पटल पर आग लगने की एक अन्य घटना संदिग्ध ड्रोन हमले की वजह से हुई हो सकती है, जिनमें तीन लोगों की मौत हो गयी और छह लोग घायल हो गये। पुलिस ने एक बयान में यह बात कही। अबू धाबी पुलिस ने मृतकों की पहचान दो भारतीय नागरिकों और एक पाकिस्तानी के तौर की है। घायलों की पहचान नहीं हुई है, जिन्हें पुलिस के अनुसार मामूली चोट आई हैं। पुलिस ने कहा कि जांच चल रही है।

 

अबू धाबी पुलिस ने संदिग्ध हमले के पीछे अभी किसी पर संदेह नहीं जताया है, लेकिन यमन के हूती विद्रोहियों ने संयुक्त अरब अमीरात पर निशाना साधने के लिए हमला करने की जिम्मेदारी ली है। ईरान समर्थित हूतियों ने पहले भी अनेक हमलों को अंजाम दिये जाने का दावा किया है, जिन्हें बाद में अमीरात के अधिकारियों ने खारिज कर दिया। अबू धाबी पुलिस के अनुसार, प्रारंभिक जांच में छोटी-छोटी उड़ने वाली वस्तुओं के दोनों इलाकों में गिरने का पता चला है, जो संभवत: ड्रोन से संबंधित हो सकती हैं। इनसे विस्फोट और आग की घटना को अंजाम दिया गया हो सकता है।

 

उन्होंने कहा कि इन घटनाओं में कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है। पुलिस ने इससे ज्यादा जानकारी नहीं दी। UAE  2015 की शुरुआत से ही यमन में संघर्ष कर रहा है। यमन में अंतरराष्ट्रीय समर्थन प्राप्त सरकार को सत्ता से बेदखल किये जाने के बाद ईरान समर्थित हूतियों के खिलाफ हमला छेड़ने वाले सऊदी नीत गठबंधन में यूएई अहम सदस्य था। UAE ने यमन में अपने सैनिकों की संख्या कम कर दी है, लेकिन वह संघर्ष में सक्रियता से शामिल है और हूतियों से लड़ रहे प्रमुख मिलीशिया का समर्थन करता है। वह यमन में आतंकवाद निरोधक अभियानों में अमेरिका के साथ भी सहयोग कर रहा है।

 

पिछले कुछ सप्ताह में हूती विद्रोही दबाव में आ गये हैं और भारी नुकसान उठा रहे हैं, जहां UAE समर्थित यमन के बलों ने देश के प्रमुख दक्षिणी और मध्य प्रांतों में विद्रोही समूहों को खदेड़ दिया है। यह घटना ऐसे समय में घटी है जब दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ-इन यूएई के दौरे पर हैं। संयुक्त अरब अमीरात के प्रधानमंत्री और दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम के साथ मून की मुलाकात के दौरान दोनों पक्षों ने UAE को सतह से हवा में प्रहार करने वाली मध्यम दूरी की दक्षिण कोरियाई मिसाइलों की बिक्री के लिए करीब 3.5 अरब डॉलर का समझौता किया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News