दिल्ली में संक्रमण से सर्वाधिक 277 मरीजों की मौत, 28 हजार से अधिक नए मामले

2021-04-21T00:31:50.37

नई दिल्लीः दिल्ली में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 28,395 नए मामले सामने आए, वहीं संक्रमण से 277 लोगों की मौत हो गई। इसी के साथ महानगर में संक्रमण की दर बढ़कर 32.82 प्रतिशत हो गई। आंकड़ों के अनुसार जांच के नमूनों में से हर तीसरे नमूने में संक्रमण की पुष्टि हुई है। दिल्ली के अस्पतालों में ‘‘ऑक्सीजन की घोर कमी'' है। महानगर के अस्पतालों में सघन देखरेख कक्षों में भी बेड की भारी किल्लत है और दिल्ली सरकार ने आगाह किया है कि अगर बुधवार सुबह तक स्वास्थ्य संस्थानों में मेडिकल ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में नहीं पहुंची तो अफरा- तफरी मच जाएगी। 
PunjabKesari
सरकारी आंकडों के अनुसार दिल्ली में रात दस बजे तक अस्पतालों के आईसीयू में केवल 30 बेड बचे हैं। शहर में पिछले छह दिन में संक्रमण से 1,100 लोगों की मौत हुई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को केंद्र सरकार से ‘‘हाथ जोड़कर'' अपील की कि दिल्ली को मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाए और कहा कि कुछ अस्पतालों में कुछ घंटे में ऑक्सीजन खत्म होने वाली है। 
PunjabKesari
वहीं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अगर बुधवार सुबह तक स्टॉक नहीं भरा गया तो महानगर में अफरा-तफरी की स्थिति हो जाएगी। दिल्ली में आईसीयू बिस्तर भी तेजी से भर रहे हैं। सरकार के ‘दिल्ली कोरोना ऐप' के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी के सरकारी एवं निजी अस्पतालों में शाम आठ बजे तक कोरोना वायरस मरीजों के लिए केवल 30 बिस्तर उपलब्ध थे। 
PunjabKesari
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली में ऑक्सीजन का गंभीर संकट बना हुआ है। मैं एक बार फिर केंद्र से आग्रह करता हूं कि दिल्ली को जल्द से जल्द ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाए। कुछ अस्पतालों में कुछ घंटे की ही ऑक्सीजन बची हुई है।'' एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘‘मैं केंद्र सरकार से हाथ जोड़कर अपील करता हूं कि दिल्ली को तुरंत ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाए।'' 
PunjabKesari
सिसोदिया ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली के अधिकतर अस्पतालों में केवल आठ से 12 घंटे तक की ऑक्सीजन बची हुई है। हम पिछले सात दिनों से केंद्र से इनकी आपूर्ति बढ़ाने के लिए कह रहे हैं। अस्पतालों को अगर बुधवार सुबह तक पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलती है तो दिल्ली में अफरा-तफरी की स्थिति हो जाएगी।'' उन्होंने ट्विटर पर विभिन्न अस्पतालों में ऑक्सीजन के स्टॉक पर नोट भी साझा किया। 
PunjabKesari
इस नोट के मुताबिक, लोक नायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल, दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, बुराड़ी अस्पताल, आंबेडकर अस्पताल, संजय गांधी अस्पताल, बी एल कपूर अस्पताल और मैक्स अस्पताल पटपड़गंज उन अस्पतालों में शामिल हैं जहां केवल आठ से 12 घंटे तक की ऑक्सीजन बची हुई है। सर गंगाराम अस्पताल ने कहा कि उनके पास केवल आठ घंटे की ऑक्सीजन बची हुई है। अस्पताल में कोविड-19 रोगियों के लिए 485 बिस्तर हैं जिनमें से 475 बिस्तर भरे हुए हैं। करीब 120 रोगी फिलहाल आईसीयू में हैं। इसके अध्यक्ष डी. एस. राणा ने कहा, ‘‘6000 घनमीटर ऑक्सीजन बची हुई है और वर्तमान उपभोग की दर से यह रात एक बजे तक खत्म हो जाएगी। तुरंत आपूर्ति की जरूरत है।'' 


Content Writer

Pardeep

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static