नगालैंड हिंसा में 14 लोगों की मौत, मोन जिले में मोबाइल इंटरनेट और मैसेजिंग सर्विस बंद

punjabkesari.in Sunday, Dec 05, 2021 - 03:42 PM (IST)

नेशनल डेस्क: भारत के पूर्वोत्तर राज्य नगालैंड में बड़ी गटना सामने आई है। नगालैंड के मोन जिले में सुरक्षाबलों ने ग्रामीणों को उग्रवादी समझकर उन पर गोलियां चला दीं, जिसमें करीब 14 लोगों की मौत हो गई। ये सभी ग्रामीण म्यांमार से सटे गांव ओटिंग के थे। सेना ने नगालैंड के मोन जिले में उग्रवाद रोधी अभियान के दौरान कई आम लोगों की मौत होने के मामले की ‘कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी' का रविवार को आदेश दिया। इस घटना के बाद मोन जिले में इंटरनेट और मैसेजिंग सर्विस बंद कर दी गई है। रिपोर्ट के अनुसार घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने सुरक्षाबलों की गाड़ियों में आग लगा दी।

 

इस घटना में एक सुरक्षा बल का एक जवान शहीद हो गया जबकि एक अन्य के घायल होने की खबर है। घटना के बाद मुख्यमंत्री नेफियू रियो ने लोगों से शांति की अपील की है। उन्होंने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि घटना की उच्च स्तरीय जांच भी कराई जाएगी। इस घटना में एक सुरक्षा बल के जवान की भी मौत की खबर है। 

 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी इस घटना पर दुख व्यक्त किया है। अमित शाह ने ट्वीट किया कि नगालैंड के ओटिंग की दुर्भाग्यपूर्ण घटना से काफी व्यथित हूं, जिन लोगों ने अपनी जान गंवाई है, उनके परिवारों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार द्वारा गठित एक उच्च स्तरीय SIT इस घटना की गहन जांच करेगी ताकि पीड़ित परिवारों को न्याय मिले। बताया जा रहा है कि हमले में मारे गए लोग एक पिकअप मिनी ट्रक से वापस लौट रहे थे। वहीं जब काफी देर तक ये लोग अपने घर वापिस नहीं लौटे तो गांव वाले उनको ढूंढने निकले तो उन्हें रास्ते में उनकी शव पड़े दिखाई दिए। इस घटना के बाद इलाके में तनाव फैल गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Seema Sharma

Related News

Recommended News