भारत की जासूसी कर रहा है चीन! हिंद महासागर में तैनात किए 12 अंडरवॉटर ड्रोन

2020-03-24T11:07:00.55

इंटरनेशनल डेस्क: कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनिया गंभीर संकट से गुजर रही है। जहां एक तरफ इस महामारी को लेकर ​हाहाकार मचा हुआ है तो वहीं चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। अब उसने हिंद महासागर में 12 अंडरवाटर ड्रोन्स तैनात कर दिए हैं, जिसके जरिए वह समुद्री रास्तों से दूसरे देशों की नौसेना की जासूसी कर रहा है और इससे जुड़ी जानकारी इकट्ठा कर रहा है।


इंटरनेशनल बिजनेस मैगजीन 'फोर्ब्स' की रिपोर्ट के अनुसार चीन ने हिंद महासागर में 12 अंडर वॉटर ड्रोन्स तैनात किए हैं। इन ड्रोन्स को पिछले साल दिसंबर महीने में लॉन्च किया गया था। इस साल फरवरी तक इसके जरिये करीब 3,500 मिशन को अंजाम दिया गया था। रिपोर्ट की मानें तो चीन वॉटर ड्रोन्स के जरिए समुद्री खनन की संभावना को तलाश रहा है। यानी कि जो डेटा समुद्र से निकाले गए हैं वो भारत के लिए खतरा भी बन सकता है।

 

सूत्रों के मुताबिक चीन की नौसेना के बढ़ते प्रभाव के बीच भारत और फ्रांस की नौसेना ने पिछले महीने हिंद महासागर में सामूहिक गश्‍त की है। दोनों देशों की नौसेनाओं की यह जॉइंट पेट्रोलिंग अफ्रीका महाद्वीप में स्थित रियूनियन द्वीप से किया गया है। इस पेट्रोलिंग के साथ ही भारत ने संदेश दिया था कि वह हिंद महासागर में अपने पैर पसारने के लिए अपने मित्र देशों के साथ आने को तैयार है। 


vasudha

Related News