शिवसेना ने भाजपा पर अनैतिक तरीके से सत्ता हासिल करने का आरोप लगाया

punjabkesari.in Friday, Jul 01, 2022 - 05:39 PM (IST)

मुंबई, एक जुलाई (भाषा) शिवसेना ने शुक्रवार को भाजपा पर अनैतिक तरीके से महाराष्ट्र में सत्ता हासिल करने का आरोप लगाया और पूछा कि अगर देवेंद्र फडणवीस को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेनी थी तो भाजपा ने 2019 में बारी-बारी से मुख्यमंत्री बनने संबंधी समझौते का सम्मान क्यों नहीं किया।

पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में शिवसेना ने पूर्व प्रधानमंत्री और दिवंगत भाजपा नेता अटल बिहारी को याद किया, जिन्होंने एक बार कहा था कि वह दलों को तोड़कर सत्ता हासिल करने में भरोसा नहीं करते। शिवसेना ने कहा कि मौजूदा भाजपा को इसका संज्ञान लेना चाहिए।

शिवसेना ने आरोप लगाया कि सबसे पहले भाजपा बागी विधायकों को सूरत लेकर गई और फिर उन्हें गुवाहाटी और गोवा लाया गया। पार्टी ने आरोप लगाया कि देश की सीमा की सुरक्षा में तैनात हजारों सुरक्षाकर्मियों को विशेष विमान से मुंबई लाया गया और उन्हें उन विधायकों की सुरक्षा में लगाया गया जिन्होंने बाल ठाकरे (दिवंगत शिवसेना संस्थापक) और हिंदुत्व को धोखा दिया।

शिवसेना के वरिष्ठ नेता एकनाथ शिंदे की अगुवाई में कई विधायकों के बगावत करने के चलते बुधवार को शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके एक दिन बाद शिंदे ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली जबकि भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री बने।

पार्टी ने कहा, ‘‘आपने अनैतिक तरीके से सत्ता हासिल की लेकिन अब आगे क्या? लोगों को अब यह जवाब देना होगा। कौरवों ने अपने दरबार में द्रौपदी का अपमान किया और युद्धिष्ठर मूकदर्शक बने रहे।’’
शिवसेना ने आरोप लगाया कि इसी तरह की घटना महाराष्ट्र में हुई है।

पार्टी ने कहा, ‘‘ हालांकि, वहां भगवान कृष्ण थे, जिन्होंने द्रौपदी के सम्मान की रक्षा की। अब, कृष्ण - जनता के रूप में - महाराष्ट्र के सम्मान की रक्षा करेंगे और अपने सुदर्शन चक्र का उपयोग करेंगे।’’


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News