बुजुर्ग दंपति पर हमला करने के मामले में चालक और परिचालक निलंबित

2021-07-31T16:41:15.227

मुंबई, 31 जुलाई (भाषा) महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (एमएसआरटीसी) के एक चालक और महिला परिचालक को मुंबई के पालघर जिले में बस डिपो पर बुजुर्ग दंपति को कथित तौर पर परेशान करने के लिए सेवा से निलंबित कर दिया गया है। बुजुर्ग दंपति ने चालक को गड्ढों से भरी सड़क पर लापरवाही से गाड़ी चलाने के लिए टोका था। अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी।

शुक्रवार को हुई इस घटना का वीडियो सामने आया है जिसमें, बस की परिचालक को वाडा बस डिपो में बस से उतरने के बाद दंपति का पीछा करते हुए और बुजुर्ग पुरुष को पीटते हुए देखा जा सकता है, जबकि बुजुर्ग महिला उन्हें बचाने की कोशिश करती दिखाई दे रही है। कुछ क्षण बाद बस चालक भी परिचालक के साथ आ जाता है और बुजुर्ग व्यक्ति को धक्का दे देता है, जिससे वह जमीन पर गिर जाते हैं।

एमएसआरटीसी के उपाध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक शेखर चन्ने ने कहा, '''' राज्य परिवहन निगम इस घटना के लिए माफी मांगता है। निगम ने तत्काल संज्ञान लिया है और संबंधित चालक व परिचालक को सेवा से निलंबित कर दिया है। इस घटना की जांच एक उच्च स्तरीय समिति द्वारा की जाएगी।''''

एमएसआरटीसी के अधिकारियों के अनुसार, चालक गोरखनाथ नागरगोजा और परिचालक शीतल पवार ने वाडा बस डिपो में उस समय दंपति के साथ मारपीट की, जब उन्होंने ड्राइवर से पूछा कि उसने गड्ढों से भरी सड़क पर तेजी से बस क्यों चलाई।

इस घटना को ''''दुर्भाग्यपूर्ण'''' बताते हुए, चन्ने ने कहा कि परिवहन उपक्रम राज्य परिवहन कर्मचारियों द्वारा यात्रियों की पिटाई का समर्थन कभी नहीं करता। उन्होंने कहा कि जांच पूरी होने के बाद दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News