आरबीआई का 40,000 करोड़ रूपये की सरकारी प्रतिभूतियों की खरीद का तीसरा चरण 17 जून को

2021-06-10T21:19:32.79

मुंबई, 10 जून (भाषा) भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बृहस्पतिवार को सरकारी प्रतिभूतियों के अधिग्रहण कार्यक्रम (जी-एसएपी 1.0) के तहत 40,000 करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों की खुले बाजार में खरीद की तीसरे चरण की घोषणा की। यह खरीद परिचालन 17 जून को होगा।

इस पहल का मकसद बांड प्रतिफल को स्थिर और व्यवस्थित रखना है।

उल्लेखनीय है कि आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने अप्रैल में कहा था कि आरबीआई जी-सैप 1.0 के तहत वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में एक लाख करोड़ रुपये की सरकारी प्रतिभूतियों की खरीद खुले बाजार के जरिये परिचालित करेगा। इस प्रकार की 25,000 करोड़ रुपये की पहली नीलामी 15 अप्रैल और दूसरी 20 मई को 35,000 करोड़ रुपये की हुई थी।

केंद्रीय बैंक ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा, ‘‘...रिजर्व बैंक 17 जून को सरकारी प्रतिभूति अधिग्रहण कार्यक्रम (जी-सैप-1.0) के तहत खुले बाजार से खरीद की तीसरी किस्त के तहत 40,000 करोड़ रुपये मूल्य की सरकारी प्रतिभूतियों की खरीद का परिचालन करेगा।’’
इसमें से राज्य विकास ऋण (एसडीएल) 10,000 करोड़ रुपये तक खरीदे जाएंगे।

आरबीआई के अनुसार जी-सैप 1.0 के तहत अब तक हुई दो नीलामी में बाजार प्रतिभागियों ने अच्छी रूचि दिखायी है।
रिजर्व बैंक ने 2021-22 की दूसरी तिमाही में जी-सैप 2.0 के परिचालन का निर्णय किया। साथ ही बाजार को समर्थन देने के लिये 1.20 लाख करोड़ रुपये के द्वितीयक बाजार खरीद संचालन करने का भी फैसला किया है।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News