केंद्र महाराष्ट्र की ओर से आयात की गयी जरूरी चीजों को मंजूरी देने में धीमा है: टोपे

5/6/2021 4:57:47 PM

मुंबई, छह मई (भाषा) महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि केंद्र का औषधि विभाग कोविड-19 मामलों में तीव्र वृद्धि के मद्देनजर राज्य सरकार द्वारा आयात की गयी जरूरी चीजों को अनापत्ति देने में धीमा है।

टोपे ने यहां संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने बृहस्पतिवार का राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक की और उनसे तीसरी लहर आने से पहले हर जिले को ऑक्सीजन, दवाओं एवं अन्य चिकित्सा उपकरणों के संदर्भ में आत्मनिर्भर बनाने के लिए अपने स्तर पर जरूरी मंजूरी एवं अनापत्ति देने को कहा ।

उन्होंने कहा, ‘‘ (केंद्र का) दवा विभाग उन विभिन्न जरूरी चीजों को शीघ्र मंजूरी नहीं दे रहा है जिन्हें हमनें विदेश से आर्डर किया है।’’
उन्होंने कहा कि राज्य को अगले एक-दो दिनों में विदेश से अहम एंटी वायरल दवा रेमडेसिविर की 3.5 लाख शीशियां मिल जाने की उम्मीद है।
मंत्री ने कहा कि कुछ दिन पहले राज्य सरकार ने ऑक्सीजन टैंक और ऑक्सीजन सांद्रक समेत विभिन्न चीजें खरीदने के लिए वैश्विक निविदा निकाली थी और उसे कई देशों से प्रस्ताव मिले।

उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने राज्य कार्यबल से ऑक्सीजन जेनेरेटरों को तकनीकी मंजूरी जैसे मंजूरी की प्रक्रिया शीघ्र पूरा करने को कहा है। हम पांच से आठ दिनों तक प्रस्तावों में बैठे नहीं रह सकते। एक बार मंजूरी दे दी दी गयी तो हम उन चीजों को ला सकते हैं।’’
टोपे ने कहा कि राज्य करीब 40000 ऑक्सीजन जेनेरेटर खरीदने की योजना बना रहा है। उनका यह भी कहना था कि महाराष्ट्र में जुलाई या अगस्त में कोविड-19 की तीसरी लहर आ सकती है।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News

static