नासिक में वेंटिलेटर पर 11 मरीजों की मौत, ऑक्सीजन में कमी होने का संदेह

2021-04-21T14:55:02.09

मुंबई, 21 अप्रैल (भाषा) महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को कहा कि नासिक के एक अस्पताल में कम से कम 11 मरीजों की मौत हो गयी है जो वेंटिलेटर पर थे। उन्होंने कहा कि इसका कारण एक टैंक से ऑक्सीजन रिसाव हो सकता है।
टोपे ने इस घटना की जांच कराने की घोषणा की।

इन कोविड-19 मरीजों का नासिक नगर निगम द्वारा संचालित एक अस्पताल में इलाज किया जा रहा था।

टोपे ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारे पास उपलब्ध जानकारी के अनुसार, नासिक के अस्पताल में 11 मरीजों की मौत हो गयी जो वेंटिलेटर पर थे। उस टैंक से रिसाव देखा गया जिससे मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही थी। माना जा रहा है कि बाधित आपूर्ति के कारण अस्पताल में 11 रोगियों की मौत हो गयी।’’
उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार इस मामले की गहन जांच करेगी।

टोपे ने कहा, ‘‘जांच पूरी हो जाने के बाद हम बाद में एक बयान जारी करेंगे।’’
टैंक से ऑक्सीजन का कथित तौर पर रिसाव होने का एक वीडियो सुबह से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

कुछ मृत कोरोना मरीजों के रिश्तेदारों ने आरोप लगाया है कि "ऑक्सीजन की कम आपूर्ति" के कारण ये मौतें हुयीं।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static