कोविड-19: महाराष्ट्र में उपचार के बाद 12 मरीज ठीक हुए, दो के खिलाफ मामला दर्ज

2020-03-24T18:25:59.83

मुंबई, 24 मार्च (भाषा) महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमित 12 मरीज उपचार के बाद ठीक हो गए और दो अलग मामलों में पुलिस को गुमराह करने और पृथक रहने के आदेश का उल्लंघन करने के लिए एक व्यक्ति और एक महिला पर मामला दर्ज किया गया।

राज्य की राजधानी मुंबई में कोविड-19 बीमारी से ग्रसित बारह मरीज उपचार के बाद ठीक हो गए।

एक वरिष्ठ निकाय अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) की उप निदेशक दक्षा शाह ने कहा, “कोरोना वायरस से संक्रमित बारह मरीजों की जांच रिपोर्ट अभी नकारात्मक आई है। पिछले कुछ दिनों से यहां निकाय के विभिन्न अस्पतालों में उनका उपचार किया जा रहा था।”
बीएमसी के एक अन्य अधिकारी ने कहा, “पिछले कुछ दिनों में इन 12 मरीजों की हालत बेहतर हुई। उनके ताजा स्वैब के नमूने जांच के लिए भेजे गए जिनके नतीजे नकारात्मक आए।”
अधिकारी ने कहा कि इसलिए अधिकारियों ने उन्हें जल्दी ही अस्पताल से छुट्टी देने का निर्णय लिया है।

इसी बीच महाराष्ट्र के ठाणे जिले में पुलिस को किसी कंपनी के बारे में गलत सूचना देने के लिए एक व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

कासरवडवली पुलिस थाने के वरिष्ठ निरीक्षक किशोर खैरनार ने बताया कि शहर में बंद लागू होने के बावजूद श्रेयस गवास नामक व्यक्ति सोमवार को पुलिस नियंत्रण कक्ष में बार-बार फोन कर क्षेत्र में किसी कंपनी में काम चालू होने की बात कहता रहा।

खैरनार ने कहा कि गवास ने पुलिस को गुमराह किया और पुलिसकर्मियों से बदतमीजी की।

गवास के खिलाफ भारतीय दंड संहिता और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन कानून के तहत मामला दर्ज किया गया है।

शारजाह से नागपुर लौटी 35 वर्षीय एक महिला को घर पर पृथक रहने को कहा गया था लेकिन वह उत्तर प्रदेश स्थित अपने मायके चली गई।

पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

उक्त महिला 15 मार्च को नागपुर के डॉ बाबासाहेब आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंची थी और उस समय तक उसमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं थे।

सोनपुर पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि उक्त महिला को 14 दिन तक घर में पृथक रहने को कहा गया था।

उन्होंने कहा कि सोमवार को जब डॉक्टरों का दल महिला के घर पहुंचा तो उसे नदारद पाया जिसके बाद पुलिस को जांच शुरू करनी पड़ी।

महिला के परिजनों ने पुलिस को बताया कि वह उत्तर प्रदेश के जोहनपुर चली गई है।

इसके बाद महिला के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता और महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Related News