ऑक्सीजन आपूर्ति को लेकर केन्द्र के उच्चतम न्यायालय जाने से हैरान : कांग्रेस

5/6/2021 6:30:53 PM

बेंगलुरु, छह मई (भाषा) कर्नाटक के तरल चिकित्सकीय ऑक्सीजन (एलएमओ) के कोटे को 965 मिट्रिक टन से बढ़ाकर 1200 मिट्रिक टन करने के कर्नाटक उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ केन्द्र की ओर से उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाए जाने पर कांग्रेस ने हैरानी व्यक्त की है।
कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष डी के शिवाकुमार ने कहा कि इस मामले में केन्द्र के उच्चतम न्यायालय का रुख करने पर उन्हें हैरानी हुई है।
कांग्रेस नेता ने दावा किया कि कर्नाटक की प्रतिदिन एलएमओ की मांग 1471 मिट्रिक टन है जबकि केन्द्र की ओर से केवल 865 मिट्रिक टन ऑक्सीजन ही मिल रही है।
शिवाकुमार ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ जब राज्य में लोग ऑक्सीजन की कमी से मर रहे हैं तो क्या मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा और भारतीय जनता पार्टी के सांसद मूक दर्शक बने रहेंगे।’’
इस मामले पर हुई सुनवाई में केन्द्र की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ को बताया कि राज्य को इस समय 965 मिट्रिक टन एलएमओ की आपूर्ति की जा रही है और कर्नाटक उच्च न्यायालय के आदेश पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई जानी चाहिए।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News

static