बेंगलुरु की उद्यमी फोर्ब्स एशियाज 30 ‘अंडर 30’ सूची में शामिल

2021-04-22T21:42:52.427

बेंगलुरु, 22 अप्रैल (भाषा) कोविड-19 की पहली लहर और मार्च 2020 से सरकार द्वारा देश भर में लगाए गए कठोर लॉकडाउन के कारण कई व्यवसायों और कंपनियों को भारी नुकसान हुआ और अंतत: घाटे में आने के बाद वो बंद हो गये। किंतु उन्हीं परिस्थितियों में बेंगलुरु की 25 वर्षीय उद्यमी विभा हरीश ने 2020 में अपना कारोबार शुरू कर महज एक साल में उसे जमकर चमकाया।
उसी का नतीजा है कि आज उनका नाम फोर्ब्स एशियाज 30 ‘अंडर 30’ सूची में शामिल हो गया है।

हरीश की कंपनी ‘कॉस्मिक्स’ हर्बल पोषण और पौधों से सप्लीमेंट बनाती है और फिलहाल सबसे तेजी से आगे बढ़ रही कंपनियों में से एक है।

स्थापना के महज एक साल के भीतर अपने उत्पादों की गुणवत्ता, उत्पादन और मार्केटिंग के तरीकों से हरीश की कंपनी का वार्षिक टर्नओवर दो करोड़ रुपये का हो गया है।

अपनी किशोरावस्था में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से जूझने वाली हरीश को महिलाओं के लिए उचित पोषण और पोषक तत्वों की कमी समझ आयी और इसी के आधार पर उन्होंने अपना व्यवसाय शुरू किया।

हरीश ने पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘मेरी मां ने एलोपैथिक दवाओं की जगह पर हर्बल (आयुर्वेदिक) दवाएं लेने की सलाह दी। मैंने जड़ी-बूटियों का उपयोग शुरू कर दिया। पश्चिम में हर्बल उत्पादों के उपयोग और हमारे देश में आयुर्वेद के महत्व से प्रेरित होकर मैंने खुद ही प्रयोग करना शुरू कर दिया।’’
हरीश ने व्यवसाय का गुर अपने माता-पिता से सीखा। साथ ही सप्लाई चेन मैनेजमेंट विषय से इंजीनियरिंग की डिग्री ने भी उसकी खूब मदद की।

हरीश ने कहा, ‘‘जड़ी-बूटियों के बारे में मैं अपनी दिलचस्पी से सीख रही थी, लेकिन फिर मुझे लगा कि इन चीजों को सही तरीके से नहीं बेचा जा रहा है क्योंकि सही वैज्ञानिक सूचनाएं साझा नहीं की जा रही हैं।’’
कॉस्मिक्स के पास फिलहाल आठ उत्पाद हैं जो आंत, लीवर, नींद, केश और त्वचा के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर तैयार किए गए हैं।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

PTI News Agency

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static