25 से 30 नवम्बर तक बैक -टू- विलेज कार्यक्रम, योजनाओं का लाभ जनसाधारण तक पहुंचाना लक्ष्य: रोहित कंसल

2019-11-21T15:53:18.817

जम्मू(मगोत्रा): जम्मू-कश्मीर मे 25 से 30 नवम्बर, 2019 तक प्रमुख बैक-टू-विलेज-2(बी-टू-वी-2) कार्यक्रम शुरु होने जा रहा है, जिसमें  5 हजार से अधिक गजटिड अधिकारी विभिन्न पंचायतों में 2 दिन और एक रात रहेंगे तथा लोगों से विभिन्न पंचायतों में विकास योजनाओं व आदि के बार में चर्चा करेंगे। हर पंचायत में एक गजटिड अधिकारी रहेगा। जम्मू में पत्रकारों से बातचीत करते हुए योजना, विकास और निगरानी विभाग के प्रमुख सचिव रोहित ने 25 से 30 नवम्बर, 2019 तक चलने वाले प्रमुख बैक-टू-विलेज-2 कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए जानकारी सांझा की।

रोहित पत्रकारों से बातचीत के दौरान बताया कि बैक-टू-विलेज (बी-टू-वी-2) का दूसरा चरण मुख्य रूप से बैक-टू-विलेज 1 की तरह ही 4 प्रमुख मुद्दों पर आधारित होगा, जो जनशक्ति के संदर्भ में पंचायतों की कार्य क्षमता सुनिश्चित करेगा, लाभार्थी उन्मुख योजनाओं की 100 प्रतिशत कवरेज औऱ ग्रामीणों अर्थव्यवस्था पर प्रोत्साहन देकर ग्रामीण लोगों की आय दुगनी करेगा। कंसल ने पत्रकारों को बताया कि सरकार द्घारा हर पंचायत को 5 करोड़ रुपए दिए जाएँगे। उन्होंने कहा कि इससे जिला विकास आयुक्तों को विकास में मदद मिल सकेगी।

पत्रकारों द्घारा जब उनसे पूछा गया कि गत वर्ष रामबन क्षेत्र में कुछ अधिकारी अपने क्षेत्र में नहीं पहुंच पाए तो, उन्होंने कहा कि ऐसी बात हमारे नोटिस में नहीं आई थी। अगर आपके नोटिस में है तो हमारे नोटिस में लाएं। रोहित कंसल ने अधिकारियों पर बल दिया कि वे संबंधित जिलों में  बी-टू-वी-2 कार्यक्रम के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित करें।


Author

rajesh kumar

Related News