कश्मीर में कोविड-19 के मरीज के संपर्क में आए 48 लोग, किए गए पृथक

2020-03-26T13:28:17.267

श्रीनगर: कश्मीर में कोरोना वायरस के कारण मरने वाले व्यक्ति के संपर्क में आए 48 लोगों को अलग रखा गया है। अधिकारी उन राज्यों के साथ संपर्क में हैं जहां यह व्यक्ति गया था ताकि वहां उन लोगों का पता लगाया जा सके जिन्हें इस व्यक्ति ने संक्रमित किया हो। श्रीनगर के हैदरपुरा इलाके के 65 वर्षीय शख्स की बृहस्पतिवार को सुबह कोरोना वायरस से मौत हो गई। जम्मू कश्मीर में इस संक्रमण से मौत का यह पहला मामला है। घाटी में उसके संपर्क में आए चार लोग भी बुधवार को संक्रमित पाए गए। ये सभी उत्तर कश्मीर के बांदीपुरा जिले के हैं।

धार्मिक सभाओं में शामिल हुआ व्यक्ति
स्वास्थ्य सेवा, कश्मीर के निदेशक समीर मट्टू ने कहा, ‘यह व्यक्ति नई दिल्ली, देवबंद (उत्तर प्रदेश), जम्मू, सांबा, सोपोर में धार्मिक सभाओं में शामिल हुआ और फिर यहां (श्रीनगर) लौटा। उसे एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई।' मट्टू ने बताया कि स्वाभाविक रूप से यह व्यक्ति इन स्थानों पर कई लोगों के संपर्क में आया होगा। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने घाटी में उन लोगों का पता लगाया जिनके संपर्क में संक्रमित व्यक्ति आया था । उन सभी को पृथक रखा गया है तथा उन पर नजर रखी जा रही है।

48 लोगों को किया गया पृथक
उन्होंने कहा, ‘हमने इन 48 लोगों का पता लगाया और उन्हें पृथक रखा गया है।' यह पूछे जाने पर कि क्या इस व्यक्ति को कई लोगों को संक्रमित करने वाला व्यक्ति (सुपर स्प्रैडर) बताया जा सकता है, इस पर निदेशक ने कहा देखिए, किसी सुपर स्प्रैडर के लिए ऐसा कोई विवरण नहीं है लेकिन वह कई जगहों पर गया था तो वह संक्रमण भी फैला रहा था।' मट्टू ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग उन अन्य स्थानों पर भी अधिकारियों के संपर्क में है जहां यह व्यक्ति गया था ताकि उसके संपर्क में आए लोगों का पता लगाया जा सकें। उन्होंने कहा हमें नहीं पता कि जम्मू कश्मीर से बाहर वह कितने लोगों के संपर्क में आया लेकिन हम वहां अधिकारियों के साथ संपर्क में हैं।

 


Author

rajesh kumar

Related News