तालिबान ने महिला अधारित धारावाहिकों पर लगाया बैन, लेडी पत्रकारों पर और कसा शिकंजा

punjabkesari.in Tuesday, Nov 23, 2021 - 12:24 PM (IST)

इंटरनेशनल डेस्कः  अफगानिस्तान में  महिलाओं के खिलाफ अब एक और नया फऱमान जारी किया है। तालिबान के नए नियम के तहत देश में महिला आधारित धारावाहिकों को नहीं दिखाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा महिला पत्रकारों पर और शिकंजा कसते हुए  उनके लिए हिजाब अनिवार्य कर दिया गया है। ये प्रतिबंध तालिबान मंत्रालय द्वारा जारी आठ नए प्रतिबंधों में से एक है। इसका मकसद धर्म का प्रसार, अधर्म या बुराई पर रोक और समाज के बुनियादी मानकों का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी निगरानी रखना है।

 

तालिबान ने अपने इस नए नियम पर तर्क देते हुए कहा कि अनैतिक चीजों के प्रचार पर रोक लगाने के लिए यह निर्देश जारी हुआ है, ताकि ऐसे वीडियो के प्रसारण पर रोक लग सके, जो शरिया कानून या तालिबान के सिद्धान्तों के खिलाफ है। तालिबान ने कहा, विदेशी और स्थानीय रूप से निर्मित फिल्में, जो अफगानस्तिान में अनैतिकता, विदेशी संस्कृति और परंपराओं को बढ़ावा देती हैं, उन्हें प्रसारित नहीं किया जाना चाहिए।

 

नये निर्देश के अनुसार, ऐसे हंसी-मजाक वाले कार्यक्रमों पर भी रोक लगाई गई है, जिसमें किसी इंसान का अपमान किया जाता हो या उसकी गरिमा को ठेस पहुंचाई जाती हो। वॉयस ऑफ अमेरिका के मुताबिक, मॉरल पुलिसिंग अफगानस्तिान में 1996 से 2001 तक पिछले तालिबानी शासन के दौरान अस्तित्व में आया था। उस दौरान समूह ने मौलिक मानवाधिकारों के उल्लंघन पर इस तरह के प्रतिबंधों को कड़ाई से लागू किया था।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News