War Live:  रूस ने  398 US सांसदों पर लगाया यात्रा प्रतिबंध, जेलेंस्की बोले-अंतहीन विनाश में बदल जाएगा युद्ध

punjabkesari.in Thursday, Apr 14, 2022 - 02:19 PM (IST)

 इंटरनेशनल डेस्कः लगातार  49 दिन से चल रही रूस-यूक्रेन जंग कहां जाकर रुकेगी , ये कहना फिलहाल मुहाल है। लेकिन इस बीच यूक्रेन की राजधानी कीव में अब तक 720 लाशें बरामद हो चुकी हैं। वहीं 200 से ज्यादा लोग लापता बताए जा रहे हैं। युद्ध की रुला देने वाली तस्वीरें भी सामने आ रही हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने कहा है कि अगर हमें अतिरिक्त हथियार नहीं मिले तो यह युद्ध अंतहीन रक्तपात, पीड़ा और विनाश में बदल जाएगा।

PunjabKesari

एक वीडियो संबोधन में जेलेंस्की ने कहा कि रूस ने जो योजना बनाई थी उसके मुकाबले कहीं अधिक बेहतर तरीके और लंबी अवधि से हम अपनी सुरक्षा कर रहे हैं। लेकिन रूस में अभी भी यूक्रेन के खिलाफ हमला करने की क्षमता है और अगर यूक्रेन की आजादी छिन गई तो उसका अगला निशाना पोलैंड, मोल्डोवा, रोमानिया और बाल्टिक देश होंगे।  रूस-यूक्रेन जंग का हर अपडेट जानने  के लिए जुड़े रहें Punjabkesari.in के साथ..

Live Update: -

  •  यूक्रेन ने भगोड़े नागरिक विक्टर मेदवेदचुक को हिरासत में लिया है जो देश में रूस समर्थक पार्टी के पूर्व नेता और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के करीबी हैं। इस गिरफ्तारी को लेकर यूक्रेन में उत्साह है जबकि रूस में आक्रोश है। विश्लेषकों का कहना है कि मेदवेदचुक युद्ध को समाप्त करने के लिए रूस और यूक्रेन के बीच चल रही वार्ता में कीमती मोहरा हो सकते हैं। 
     
  • यूक्रेन की खुफिया विभाग की ओर से दावा किया गया है कि, रूस ने अपने सैनिकों को युद्ध अपराधों के सबूत मिटाने को कहा है।
     
  • रूसी सैनिक इसके लिए मोबाइल शवदाह गृह लेकर चल रहे हैं और लाशों को वहीं पर जला दे रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, मैरियूपोल में 13 मोबाइल शवदाह गृह देखे गए थे। इनसे सड़क पर पड़ी लाशों को जलाया गया था। 
     
  • इस बीच रूस ने अमेरिकी कांग्रेस के 398 सदस्यों को अपनी यात्रा प्रतिबंध की सूची में डाल दिया है। रूसी विदेश मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। 
     
  • इस साल 24 मार्च को रूस के 328 सांसदों के खिलाफ अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने यात्रा प्रतिबंध लगाया था उसी के जवाब में रूस ने यह कदम उठाया है। 

    PunjabKesari
     
  • रूसी मीडिया के अनुसार, विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अमेरिकी कांग्रेस के प्रतिनिधि सभा के 398 सदस्यों के खिलाफ जवाबी प्रतिबंध लगाए गए हैं।
     
  • इसी बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने यूक्रेन को हेलीकॉप्टर और सैन्य साजो-सामान सहित 80 करोड़ डॉलर की नई सैन्य सहायता को मंजूरी दी है।
     
  • बाइडन ने कहा, 'इस नये सहायता पैकेज में कई अत्यधिक प्रभावी हथियार प्रणालियां शामिल होंगी जोकि हम पहले ही उपलब्ध करा चुके हैं। साथ ही यूक्रेन के पूर्वी हिस्से में रूस के व्यापक हमले की आशंका के मद्देनजर नया सैन्य साजो-सामान भी शामिल हैं।'   
     
  • ब्रिटिश सरकार ने बुधवार को रूस के खिलाफ अपने प्रतिबंधों का और विस्तार किया। ब्रिटेन ने कथित दोनेत्स्क और लुहांस्क पीपल्स रिपब्लिक्स के स्वघोषित प्रधानमंत्री समेत 178 रूसी अलगाववादियों पर प्रतिबंध लगाए हैं। आरोप है कि ये लोग यूक्रेन के इन क्षेत्रों पर रूस के अवैध कब्जों का समर्थन करते हैं।  


    PunjabKesari
     
  • पोलैंड के राष्ट्रपति आंद्रेज डूडा और तीन बाल्टिक राष्ट्रों के राष्ट्रपति रूसी हमले की वजह से यूक्रेन को राहत सामग्री उपलब्ध कराने की वार्ता से पहले युद्ध प्रभावित देश पहुंचे हैं।
     
  •  डूडा के कर्मचारी पावेल सजरोत ने कहा कि पोलैंड के राष्ट्रपति लिथुआनिया, लातविया और एस्टोनिया के राष्ट्रपति के साथ अभी यूक्रेन में हैं। वे राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की से मिलने के लिए कीव की यात्रा कर रहे हैं। 
     
  • अमेरिकी वित्त विभाग के एक अधिकारी ने कहा है कि अमेरिका और उसके सहयोगी देश रूस को उसका धन यूक्रेन में हमले पर लगाने के बजाय अपनी अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने में करने के लिए मजबूर करने के उद्देश्य से प्रतिबंध बढ़ा रहे हैं।   
     

     

    रूस के पड़ोसी चार देशों के राष्ट्रपतियों ने किया यूक्रेन का दौरा 
    रूस के पड़ोसी चार देशों के राष्ट्रपतियों ने बुधवार को संकटग्रस्त यूक्रेन का दौरा किया और उसे समर्थन का एहसास दिलाया। इस दौरान राष्ट्रपतियों ने रूसी हमलों में क्षतिग्रस्त हुई इमारतों को देख रूस से युद्ध अपराधों के लिए जवाबदेही की मांग की। पोलैंड, लिथुआनिया, लातविया और एस्टोनिया के राष्ट्रपतियों की यात्रा नाटो के पूर्वी हिस्से के देशों की एकजुटता का एक मजबूत प्रदर्शन थी। इनमें से तीन पहले यूक्रेन की तरह सोवियत संघ का हिस्सा थे। इन नेताओं ने राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की से मिलने के लिए यूक्रेन की राजधानी कीव में ट्रेन से यात्रा की।

    रूसी सैनिकों द्वारा किए गए अत्याचार के सबूत मिले
    इसके बाद उन्होंने बोरोड्यांका इलाके का दौरा किया, जहां रूसी सैनिकों द्वारा किए गए अत्याचार के सबूत मिले हैं। लिथुआनिया के राष्ट्रपति गीतानास नौसेदा ने रूस से तेल और गैस की खरीद और देश के सभी बैंकों के खिलाफ सख्त प्रतिबंधों का आह्वान करते हुए कहा ‘‘यूरोप के भविष्य के लिए लड़ाई यहां हो रही है।'' अब तक हुए युद्धों की सबसे महत्वपूर्ण लड़ाइयों में से एक में रूस ने कहा कि एक हजार से अधिक यूक्रेनी सैनिकों ने मारियुपोल के, घिरे हुए दक्षिणी बंदरगाह में आत्मसमर्पण कर दिया था। यूक्रेन के एक अधिकारी ने दावे का खंडन किया जिसे सत्यापित नहीं किया जा सका।

    पश्चिमी अधिकारियों के अनुसार, 24 फरवरी को रूस ने कीव पर कब्जा करने, सरकार गिराने और एक अनुकूल माहौल स्थापित करने के लक्ष्य से यूक्रेन पर आक्रमण किया था। लेकिन जमीनी हकीकत धीरे-धीरे बदलने लगी। रूस ने संभावित रूप से अपने हजारों सैनिकों को युद्ध में खो दिया। वहीं, संघर्ष में अनगिनत यूक्रेनी नागरिकों को भी मौत को गले लगाना पड़ा। इस दौरान लाखों लोग अपना देश छोड़कर पलायन करने के लिए मजबूर हो गए। 

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Related News

Recommended News