साइबर बुलिंग से मानसिक आघात और डिप्रेशन का गंभीर खतरा

2020-01-23T17:40:20.037

दुबईः साइबर बुलिंग का शिकार बच्चों में दूसरों के मुकाबले मानसिक आघात और डिप्रेशन का खतरा ज्यादा गंभीर होता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि साइबर बुलिंग बच्चों में स्ट्रेस डिसॉर्डर को बढ़ावा देता है। जर्नल ऑफ क्लीनिकल साइकेट्री में प्रकाशित शोध के नतीजों में इसके सह-लेखक और मियामी मिलर स्कूल ऑफ मेडिसिन के फिलिप डी हार्वे ने बताया, मानसिक समस्याओं की पृष्ठभूमि वाले बच्चों में भी साइबर बुलिंग के दुष्प्रभाव स्पष्ट दिखते हैं और इसका आकलन किया जाना चाहिए। उन्होंने यह भी जोड़ा कि दूसरे अपराधों की तुलना में साइबर बुलिंग ज्यादा खतरनाक है क्योंकि बच्चे आसानी से इसकी जद में आ जाते हैं।

 

शोध के मुताबिक पहले प्रताड़ित हो चुके बच्चों के साइबर बुलिंग का शिकार होने की आशंका भी ज्यादा होती है। इसलिए, शोधकर्ताओं का मानना है कि साइबर बुलिंग के असर का आकलन करते समय बचपन में झेली प्रताड़ना को भी तवज्जो देनी चाहिए। उन्होंने बताया कि बुलिंग का सबसे खतरनाक तरीका वह होता है जिसमें इंसान पर व्यक्तिगत हमले किए जाते हैं, जिनसे वह बुरा अनुभव करता है। हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया कि केवल सोशल मीडिया पर लगातार बने रहने से साइबर बुलिंग का खतरा नहीं बढ़ता।

 

मानसिक अस्पताल में हुआ शोध यह शोध न्यूयॉर्क में वेस्टचेस्टर काउंटी के एक मानसिक अस्पताल में किया गया। इसमें शामिल लोगों को बचपन में प्रताड़ना से संबंधित दो और साइबर पुलिंग से संबंधित एक सवाल पूछा गया। नतीजों में बताया कि 20 प्रतिशत लोग पिछले दो महीने में ही बुलिंग का शिकार हुए। इनमें से आधे लोगों को मैसेज भेजकर तो बाकी को फेसबुक पर प्रताड़ित किया गया। इंस्टाग्राम और चैट रूम में तस्वीरें और वीडियो को वायरल करना बुलिंग के अन्य प्रमुख हथियार हैं।

 

क्या है साइबर बुलिंग ?
साइबर बुलिंग भी साइबर अपराधों की ही श्रेणी में आता है, अक्सर ऐसे अपराध बच्चों और नवयुवकों के द्वारा किया जाता है और किया जा रहा है। साइबर बुलिंग का मतलब है इंटरनेट कम्पुयटर, मोबाइल टेक्नोलॉजी और बुलिंग का मतलब परेशान करना, भयभीत करना, धोंसियाना, डराना धमकाना या डरा धमका कर काम करवाना। जब साइबर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किसी व्यक्ति को बुली करने में किया जाता है तो साइबर बुलिंग कहा जाता है। साइबर बुलिंग का बुरा प्रभाव बच्चों के जीवन पर पड़ता है खास कर उनके शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक रूप से भी बुरा प्रभवा पड़ता है।  


Tanuja

Related News