बाइडेन ने पुतिन को कहा 'हत्यारा' , व्लादिमीर बोले-" No tention, कोई फर्क नहीं पड़ता"

2021-06-13T10:53:58.27

इंटरनेशनल डेस्कः रूस और अमेरिका के बीच संबंध हाल के वर्षों में काफी खराब हुए हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन द्वारा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को  'हत्यारा'  कहने पर  पुतिन ने बड़ी ही सधी हुई प्रतिक्रिया दी है ।  व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि वह अपने अमेरिकी समकक्ष जो बाइडेन द्वारा 'हत्यारा' कहे जाने से चिंतित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि उन पर ऐसे आरोप लगते रहे हैं और उन्हें अब इससे फर्क भी नहीं पड़ता। अगले सप्ताह बाइडेन के साथ होने वाली बैठक से ठीक पहले NBC को दिए इंटरव्यू में राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि मेरे कार्यकाल के दौरान मुझ पर इस तरह के काफी हमले किए गए और अब तो मुझे इसकी आदत हो गई है। अब न इससे मुझे फर्क पड़ता है और न ही मुझे आश्चर्य होता है। 

 

पुतिन ने अगले सप्ताह अमेरिकी समकक्ष बाइडेन के साथ अपनी बैठक से पहले  साक्षात्कार में कहा, 'हमारे बीच द्विपक्षीय संबंध हाल के वर्षों में अपने सबसे निचले स्तर पर चले गए हैं और काफी बिगड़ गए हैं।' बता दें कि इसी साल मार्च महीने में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने एक इंटरव्यू के दौरान व्लादिमीर पुतिन को 'हत्यारा' माना था। यह पूछे जाने पर कि क्या वो सोचते हैं कि पुतिन, जिन पर विपक्षी नेता अलेक्सी और दूसरे प्रतिद्वंद्वियों को जहर देने को आदेश देने के आरोप हैं, एक 'हत्यारे' हैं, बाइडेन ने कहा था कि  हां वो ऐसा सोचते हैं। इसका असर ये हुआ था कि रूस ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए वाशिंगटन से अपने राजदूत को वापस बुला लिया।

 

स्विटरजैंल के विदेश मंत्रालय ने कहा कि जिनेवा के एक सार्वजनिक पार्क के मध्य में स्थिति 18वीं शताब्दी के एक भव्य विला में अगले हफ्ते अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की शिखर बैठक होगी। स्विस अधिकारियों ने जिनेवा के पार्स डे ला ग्रांज को मंगलवार से दस दिनों तक जनता के लिये बंद कर दिया गया था, इसी परिसर के मध्य में विला ला ग्रांज भी स्थित है।

 

अधिकारियों ने बृहस्पतिवार से पहले इस परिसर को आम लोगों के लिये बंद किये जाने की कोई वजह नहीं बताई थी। मंत्रालय ने इस स्थान की शिखर वार्ता स्थल के तौर पर घोषणा की। सुरक्षा दस्तों ने परिसर तथा पास की पार्किंग के बंद होने तथा यातायात को निर्देशित करने वाले साइन बोर्ड लगाए हैं। पार्क के चारों तरफ बाड़बंदी भी की गई है। इस विला से लेक जिनेवा (झील) भी नजर आती है। यह विला और उद्यान बड़े पेड़ों से घिरे हुए हैं और यहां कई पेड़ 200 साल से भी पुराने हैं। यह जनवरी में अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद बाइडन की पहली कूटनीतिक विदेश यात्रा है। वह बृहस्पतिवार को ब्रिटेन में थे।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News