मांगों पर सहमति जताने के बाद पाकिस्तान में किसानों ने अपना विरोध-प्रदर्शन वापस लिया

punjabkesari.in Tuesday, Oct 04, 2022 - 10:32 PM (IST)

इस्लामाबाद, चार अक्टूबर (भाषा) सरकार के मांगों को पूरा करने आश्वासन के बाद पंजाब प्रांत के किसानों ने मंगलवार को अपना एक सप्ताह का विरोध प्रदर्शन वापस ले लिया।
किसान संघ ‘किसान इत्तेहाद’ की अगुवाई में पाकिस्तान की राजधानी में 28 सितंबर से किसान बिजली और उर्वरक की बढ़ती लागत के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। बिजली और उर्वरक की बढ़ती लागत के कारण किसानों की आय बुरी तरह प्रभावित हुई है।

किसान इत्तेहाद के प्रमुख खालिद बट ने मंगलवार को पाकिस्तान के गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह के साथ एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि समूह विरोध-प्रदर्शन को वापस ले रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार ने हमें आश्वासन दिया है कि हमारी सभी मांगें मान ली जाएंगी।’’
सनाउल्लाह ने कहा कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने उनके मुद्दों को सुलझाने के लिए एक समिति का गठन किया है।

अधिकारियों के अनुसार, किसान पूरे पंजाब प्रांत से आए थे और वे 5.3 रुपये प्रति यूनिट के पिछले ट्यूबवेल बिजली शुल्क को बहाल करने और सभी करों और समायोजन को समाप्त करने की मांग कर रहे थे।



यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Related News

Recommended News