साइबर हमले में मदद करने वाले एस्टोनिया के दो व्यक्ति दोषी करार दिये गये

2021-06-17T18:36:55.98

वाशिंगटन, 17 जून (एपी) रैंसमवेयर और दुनिया भर में कंप्यूटर प्रणाली पर अन्य हमलों में संलिप्तता को लेकर एस्टोनिया के दो व्यक्तियों को संघीय साइबर अपराध का दोषी ठहराया गया है।
हार्टफोर्ड स्थित यूस डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में एक जूरी ने मंगलवार को ओलेग कोशकिन (41) को कंप्यूटर धोखाधड़ी और दुर्व्यवहार तथा कंप्यूटर फर्जीवाड़ा और दुर्व्यवहार में सहयोग करने के आरोपों में दोषी करार दिया।
‘रैंसमवेयर’ एक प्रकार का दुर्भावनापूर्ण साफ्टवेयर है, जिसके जरिए वसूली की रकम मिलने तक किसी कंप्यूटर प्रणाली के संचालन को बाधित कर दिया जाता है। सह आरोपी पावेल तासुरकन (33) ने एक संरक्षित कंप्यूटर में अनधिकृत पहुंच स्थापित करने में सहयोग करने का अपना अपराध बुधवार को स्वीकार कर लिया।
अभियोजकों ने बताया कि कोशकीन एक रूसी नागरिक है जो एस्टोनिया में रहता है। वहीं, तासुरकन एस्टोनिया और थाईलैंड में रहता है।
न्याय विभाग के आपराधिक प्रभाग के कार्यवाहक सहायक अटार्नी जनरल निकोलस मैकक्वेड ने एक बयान में कहा कि कोशकिन ने एक ऐसा डिजाइन तैयार किया और उसे संचालित किया, जो दुनिया के सर्वाधिक विध्वंसकारी साइबर अपराधियों के लिए एक आवश्यक औजार था।
एपी सुभाष नरेश नरेश 1706 1832 वाशिंगटन

यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

सबसे ज्यादा पढ़े गए

PTI News Agency

Recommended News