नेपाल में ओली सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग, सिर मुंडवाने आए प्रदर्शनकारी गिरफ्तार (Video)

2021-01-14T15:31:24.137

काठमांडू : नेपाल पुलिस ने बुधवार को देश की राजधानी काठमांडू  में निचले सदन को भंग करने के खिलाफ  नेपाल छात्र संघ द्वारा प्रदर्शन किया गया । इस दौरान विरोध  कर रहे दर्जनों लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। सरकार के फैसले के खिलाफ नेपाल छात्र संघ के सदस्यों की  सिर मुंडवाने की योजना थी लेकिन इससे पहले ही पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया।

 

इस दौरान एक प्रदर्शनकारी ने  कहा कि  सरकार संसद भंग कर सकते है और हमें अपना सिर मुंडवाने की भी आजादी नहीं। किस संविधान के आधार पर आप हमें प्रतिबंधित कर रहे हैं? यह हमारा संविधान है।" बता दें कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली  द्वारा संसद भंग करने के बाद  चुनाव की नई तारीखों की घोषणा के बाद  देश में इसका विरोध शुरू हो गया है।  नेपाल छात्र संघके नेतृत्व में लोग सरकार के खिलाफ  काठमांडू की सड़कों पर उतर आए  और ओली के इस कदम को असंवैधानिक बताया ।

 

प्रदर्शनकारियों  ने कहा कि सरकार के इश फैसले के खिलाफ  सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। संसद को भंग करने के कदम के खिलाफ कुल 13 याचिकाएं दायर की गई हैं। मामले की सुनवाई शुक्रवार को होने वाली  है। गौरतलब है कि यह नेपाल की राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी द्वारा 20 दिसंबर को प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली की सिफारिश पर निचले सदन को भंग कर दिया। संसद को भंग करने के बाद ओली ने  30 अप्रैल और 10 मई  2021 को चुनाव प्रस्तावित किया है। 


Tanuja

Recommended News