पाकिस्तानः पंजाब सरकार ने खारिज की पूर्व पीएम नवाज शरीफ की मेडिकल रिपोर्ट

2020-01-19T19:33:11.49

इंटरनेशनल डेस्कः पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में सरकार ने पाकिस्तान के पूर्व प्रधान मंत्री नवाज शरीफ की चिकित्सा रिपोर्ट को खारिज कर दिया है। कहा गया है की, इस रिपोर्ट को लंदन में किसी निजी चिकित्सक द्वारा तैयार किया गया है। द एक्सप्रेस ट्रिब्यून द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, मेडिकल रिपोर्ट में शरीफ के इलाज के बारे में उनके रक्त प्लेटलेट काउंट के संबंध में कम जानकारी दी गई है। बता दें कि पाकिस्तान के पूर्व पीएम 7 साल की जेल की सजा काट रहे हैं। उनकी लगातार बिगड़ती तबीयत और बाद में प्लेटलेट काउंट में लगातार गिरावट आने के बाद उनको बीमारी के उपचार के लिए विशेष रूप से विदेश जाकर इलाज कराने की अनुमति दी गई थी। सूत्रों ने दावा किया है कि शरीफ ने एक ऐसे डॉक्टर द्वारा तैयार की गई मेडिकल रिपोर्ट भेजी है, जिसने लंदन में उनका चेक-अप ही नहीं किया है। यूके में नियमों के अनुसार, रोगी के चिकित्सक रिपोर्ट वो ही डॉक्टर तैयार कर सकता है जो नियमित रूप से चेक-अप कर रहा हो और साथ ही रोगी के मेडिकल इतिहास पर भी उसकी नजर हो। नियमों के तहत, डॉक्टर सारांश की एक कॉपी भी रखता है। वहीं, एक दूसरी कॉपी को मरीज को सौंप दी जाती है जबकि तीसरी कॉपी को संबंधित अस्पताल में रिकॉर्ड के रूप में रखा जाता है।

 

 

खबरों के मुताबिक, शरीफ ने प्लेटलेट की कमी और (iTP) बीमारी के लिए चार कार्डियक चेकअप कराए हैं, जबकि एक कार्डियोलॉजिस्ट ने कुछ टेस्ट करवाने को भी कहा है। हार्ट स्पेशलिस्ट साइमन ब्रेट वुड ने लंदन के गाइ अस्पताल में शरीफ के तीन चेकअप करने के बाद एंजियोप्लास्टी कराने को कहा। हालांकि, सूत्रों का दावा है कि स्पेशलिस्ट वुड की तरफ से कोई रिपोर्ट सरकार को नहीं सौंपी गई है। बता दें कि हाल ही में शरीफ की रेस्तरां में एक फोटो वायरल हुई थी, जिसे लेकर इमरान सरकार के मंत्रियों ने उनपर हमला बोला था। संबंधित फोटो में, शरीफ, PML-N के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ और उनके बेटे हमजा के साथ एक रेस्तरां में बैठे दिखाई दे रहे हैं। उस वक्त पाकिस्तानी अखबार डॉन ने कहा था कि यह फोटो PTI की अगुवाई वाली पंजाब सरकार से नवाज को लंदन में लंबा विस्तार हासिल करने में समस्या पैदा कर सकती है।


Edited By

Ashish panwar

Related News