US में तालिबानी गेटअप में राकेट लांचर लिए दिखे बाइडेन, होर्डिंग पर लिखा शर्मनाक संदेश ! (PICS)

09/18/2021 12:29:10 PM

इंटरनेशनल डेस्कः अमेरिका के शीर्ष सैन्य कमांडर द्वारा काबुल हवाईअड्डे पर पिछले महीने हुए आत्मघाती धमाके के कुछ दिनों बाद ‘ISIS-K' के आतंकवादियों को निशाना बनाते हुए किए गए ड्रोन हमले को ‘‘गलती'' के रूप में स्वीकार करने के बाद राष्ट्रपति जो बाइडेन के एक होर्डिंग्ज को लेकर बवाल मच गया है। दिलचस्प  बात यह है कि होर्डिंग्ज  में बाइडेन को तालिबानयों जैसे कपड़े पहने हुए दिखाया गया है और उनके हाथ में रॉकेट लॉन्चर है। साथ ही होर्डिंग पर  अमेरिका को शर्मसार करने वाला संदेश लिखा है- तालिबान को फिर से ग्रेट बनाया जा रहा !


PunjabKesari

होर्डिंग के पीछे इस शख्स का हाथ
अफगानिस्तान से अमेरिकी सेनाओं की पूरी तरह से वापसी को US में भी कई लोगों ने गलत बताया है। ये लोग राष्ट्रपति जो बाइडेन पर अपनी जिम्मेदारी से भागने का आरोप लगा रहे हैं। अमेरिकी राज्य पेनसिल्वेनिया में अब होर्डिंग लगाकर बाइडेन पर तंज कसा गया है। अलग-अलग जगहों पर कई होर्डिंग लगाई गई हैं, जिनमें राष्ट्रपति बाइडेन का चेहरा लगा हुआ है।

 

इन होर्डिंग के पीछे पेंसिल्वेनिया के पूर्व रिपब्लिकन सीनेटर स्कॉट वैगनर को माना जा रहा हैं। उन्होंने 2014 से 2018 ऐसे जिले का प्रतिनिधित्व किया, जिसमें यॉर्क काउंटी शामिल है। वैगनर ने फॉक्स न्यूज को बताया कि राष्ट्रपति बाइडेन के अफगानिस्तान से सैनिकों की वापसी के फैसले ने हमें दुनिया के लिए हंसी का पात्र बना दिया। तालिबानी खुले तौर पर कह रहे हैं कि उन्होंने अमेरिका को अफगानिस्तान से बाहर भगा दिया।

PunjabKesari

वैगनर बोले- नहीं हटाएंगे होर्डिंग
वैगनर ने कहा कि वह इस बात से निराश और चिंतित हैं कि जब से हम उनके देश में गए, वहां के युवाओं ने जिस स्वतंत्रता का अनुभव किया, वह अब छीन ली जाएगी, क्योंकि तालिबान अपनी सत्ता जमा चुका है। उन्होंने साफ कहा कि इन होर्डिंग को जल्दी नहीं हटाया जाएगा और कम से कम दो महीने तक ये ऐसे ही लगी रहेंगी। उन्होंने कहा कि मैं किसी से कुछ छिपा नहीं रहा हूं, जो मुझे लगता है, वही दिखा रहा हूं।

PunjabKesari

ऐसे और होर्डिंग लगाने को उत्सुक लोग
वैगनर ने पूरे राज्य में 12 से ज्यादा होर्डिंग के लिए 15,000 डॉलर खर्च किए। उन्होंने कहा कि यह इमेज उनके किसी जानने वाले ने भेजी थी, जो उन्हें पसंद आई। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि देश भर में इस तरह के और होर्डिंग लगेंगे, क्योंकि कुछ लोगों ने इसकी इजाजत के लिए उनसे संपर्क किया है। बता दें कि 2001 में अमेरिकी सेना ने अफगानिस्तान में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन शुरू किया था। अमेरिका की स्पेशल फोर्सेज अफगानिस्तान में तालिबान के विरोधी नॉर्दर्न अलायंस जैसे मिलिशिया के साथ मैदान में कूद पड़ीं।

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tanuja

Recommended News